अखिलेश ने बीजेपी के दांव का किया खुलासा

सीएम अखिलेश यादव ने सार्वजनिक मंच से अपने समर्थकों व पार्टी के नेताओं को इशारा कर दिया है कि बीजेपी ऐसे दांव खेल सकती है। यूपी में पहले से ही सपा और पीएम नरेन्द्र मोदी में आगे निकलने की होड़ मची है। ऐेसे में सीएम अखिलेश ने सबको टिप्स देकर सजग कर दिया है।

अखिलेश ने बीजेपी के दांव का किया खुलासा

सीएम अखिलेश यादव ने सार्वजनिक मंच से अपने समर्थकों व पार्टी के नेताओं को इशारा कर दिया है कि बीजेपी ऐसे दांव खेल सकती है। यूपी में पहले से ही सपा और पीएम नरेन्द्र मोदी में आगे निकलने की होड़ मची है। ऐेसे में सीएम अखिलेश ने सबको टिप्स देकर सजग कर दिया है।

यूपी विधानसभा चुनाव 2017 में सीएम अखिलेश यादव व पीएम नरेन्द्र मोदी में विकास को लेकर होड़ मची है। इस बात का सबसे बड़ा उदाहरण पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में देखने को मिल रहा है। यहां पर बीजेपी ने कई बड़ी घोषणा की है और कई योजना का प्रथम चरण तक पूरा हो चुका है। शहर में बिजली तारों को भूमिगत करना, स्मार्ट सिटी के लिए सफाई व्यवस्था, बुनकर सेंटर, जल परिवहन के लिए टर्मिनल, फोन लेन, गैस पाइप लाइन आदि ऐसी कई योजना है, जिन पर ेतेजी से कम चल रहा है। पीएम मोदी को विकास रेस में पीछे छोडऩे के लिए सीएम अखिलेश ने वरूणा कॉरीडोर, 24 घंटे बिजली, मुफ्त डायलिसिस, मेट्रो चलाने का निर्णय आदि शामिल है।

जानिए कैसे सीएम अखिलेश ने बीजेपी के दांव का किया इशारा

सीएम अखिलेश ने चुनावी घोषणा पत्र जारी करते समय कहा कि अभी बजट आने वाला है और बजट में यूपी को कुछ मिल सकता है। इसके बाद उन्होंने कहा कि वह कहते तो बहुत है लेकिन हम करके दिखाते हैं। सीएम अखिलेश यादव के बाद से स्पष्ट हो गया है कि यूपी विधानसभा 2017 को देखते हुए बीजेपी बजट में यूपी को कुछ विशेष सौगात दे सकती है। हालांकि एक फरवरी को बजट आता है कि नहीं। इस पर चुनाव आयोग एवं कोर्ट से अंतिम निर्णय नहीं हुआ है। इसके बाद भी सीएम अखिलेश ने कार्यकर्ताओं व नेताओं को सचेत कर दिया है।

विकास की जंग में किसके हाथ लगेगी बाजी

यूपी चुनाव में विकास के नाम पर होने वाली जंग में किसके हाथ में बाजी लगेगी, यह जनता ही तय करेगी। सीएम अखिलेश यादव ने इशारो-इशारो में बसपा सुप्रीमो पर हमला बोलते हुए बसपा को पत्थर वाली सरकार बताया है जबकि पीएम मोदी पर भी निशाना साधा है। सीएम अखिलेश ने पूर्वांचल के लोगों को लुभाने का भी मौका नहीं छोड़ा है। पीएम मोदी ने भी पूर्वांचल को लोगों को सौगात दी है जिसमे गोरखपुर में बनने वाला एम्स भी शामिल है।

बीजेपी से आगे निकल गये सीएम अखिलेश

सीएम अखिलेश यादव ने प्रत्याशियों की दो सूची व चुनावी घोषणा पत्र जारी करके बीजेपी से बढ़त बना ली है। बीजेपी की हालत इतनी खस्ता होती जा रही है कि पार्टी प्रत्याशियों की एक सूची से अधिक जारी नहीं कर पायी है।