बेंगलूरू की घटना पर ये बोले अक्षय कुमार

बेंगलूरू में लड़कियों के साथ छेड़छाड़ पर आमिर के बाद अब अक्षय कुमार का गुस्सा फूटा है। छेड़छाड़ को लेकर नेताओं ने आपत्तिजनक बयान दिए जिस पर अक्षय कुमार ने एतराज जताया है...

बेंगलूरू की घटना पर ये बोले अक्षय कुमार

बेंगलूरू में लड़कियों के साथ छेड़छाड़ पर आमिर के बाद अब अक्षय कुमार का गुस्सा फूटा है। छेड़छाड़ को लेकर नेताओं ने आपत्तिजनक बयान दिए जिस पर अक्षय कुमार ने एतराज जताया है। उन्होंने कहा कि मुझे ऐसी सोच और बयानबाजी पर एतराज है। अक्षय कुमार ने कहा कि बदतमीजी करने वाले हमारे यहां से ही हैं। हमारे-आपके घरों से ही हैं। हमारे बीच ही घूमते हैं ये दरिंदे। अभी भी वक्त है, सुधर जाओ। वर्ना जिस दिन इस देश की बेटी ने पलटकर जवाब दिया ना, सुधरोगे नहीं, सीधा ऊपर सिधार जाओगे, मामले में बेंगलुरु पुलिस ने एफआईआर तो दर्ज कर ली है, लेकिन कोई भी विक्टिम खुलकर सामने नहीं आई हैं।

बता दें कि अक्षय ने अपने 2.21 मिनट का वीडियो ट्वीट किया। इसमें वह छेड़खानी करने वालों और घटिया स्टेटमेंट्स से इन घटनाओं को बढ़ावा देने वालों पर गुस्सा जाहिर करते दिख रहे हैं। अक्षय ने कहा- "दिल से बोलूं... आज अपने इंसान होने पर शर्म आ रही है। एक प्यारी-सी छुट्टी बिताकर अपने परिवार के साथ केपटाउन से लौटा। बहुत मन से आप सभी को नए साल की मुबारकबाद दी। अपनी बेटी को गोद में उठाए एयरपोर्ट से निकल ही रहा था कि टीवी पर आ रही एक खबर पर नजर पड़ी। बेंगलुरु में नए साल में कुछ लोगों का वहशियत भरा नाच देखा। खुलेआम सड़क पर। उसे देखकर पता नहीं आप लोगों को कैसा लगा। लेकिन भगवान कसम, मेरा खून खौल उठा।

अक्षय ने गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि मैं भी एक बेटी का बाप हूं। अगर ना भी होता तो यही कहता कि जो समाज अपनी औरतों को इज्जत नहीं दे सकता, उसे अपने आप को इंसानी समाज कहने का कोई हक नहीं। सबसे शर्म की बात पता है क्या है? कुछ लोग राह चलते एक लड़की के हैरेसमेंट को उचित ठहराने की औकात रखते हैं। लड़की ने छोटे कपड़े पहने क्यों? लड़की रात में घर से बाहर गई क्यों? ऐसे सवाल करते हैं। शर्म करो। छोटे लड़की के कपड़े नहीं, छोटी आपकी सोच है। भगवान न करे जो बेंगलुरु में हुआ है, वह आपकी बहन या बेटी के साथ हो।

साथ ही अक्षय कुमार ने अपने वीडियो में आगे कहा कि ये बदतमीजी करने वाले किसी दूसरे ग्रह से नहीं आए हैं। ये हमारे यहां से ही हैं। अभी भी वक्त है, सुधर जाओ। वर्ना जिस दिन इस देश की बेटी ने पलटकर जवाब दिया ना, सुधरोगे नहीं, सीधा ऊपर सिधार जाओगे। अक्षय ने कहा कि लड़कियों से भी मैं कुछ कहना चाहूंगा। लड़कियां किसी भी तरह लड़कों से अपने आप को कमजोर न समझें। आप अपनी सुरक्षा के लिए पूरी तरह काबिल बन सकती हैं। ऐसे लड़कों को संभालने की ऐसी छोटी और आसान टेक्नीक हैं मार्शल आर्ट में। किसी में इतना दम नहीं कि आपकी मर्जी के बिना आपको हाथ भी लगा सके। आपको डरना नहीं है। बस अलर्ट रहो। सेल्फ डिफेंस सीखो। पुरुष नहीं सुधरेंगे, इसलिए वक्त है कि औरतें इस सुधार को अपने हाथों में लें। और हां, अगली बार आपके कपड़ों पर आपको कोई ज्ञान देने की कोशिश करे, तो उससे कहना कि अपनी सलाह अपने पास रखिए और अपने काम पर ध्यान दीजिए, मुझ पर नहीं।