प्यार को पाने के लिए उसकी सभी बातें मानती थी वो, लेकिन मिली मौत

ग्रेटर नोएडा में एक लड़की ने अपने प्रेमी को पाने के लिए लड़की ने उसकी हर बात पर यकीन किया लेकिन आखिर में प्रेमी ने ही ले ली प्रेमिका की जान।

प्यार को पाने के लिए उसकी सभी बातें मानती थी वो, लेकिन मिली मौत

ग्रेटर नोएडा में एक लड़की ने अपने प्रेमी को पाने के लिए उसने उसकी हर बात पर यकीन किया था लेकिन आखिर में प्रेमी ने ही ले ली उसकी जान।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स आॅफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, 30 साल के हेमंत कौशिक और 26 साल की माधुरी की दोनों एक-दूसरे को पसंद करते थे। लेकिन, ग्रेटर नोएडा में एक स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र में काम करने वाला हेमंत शादीशुदा था और उसके दो बच्चे भी थे।

माधुरी हेमंत से शादी करना चाहती थी। उसने हेमंत से कई बार इसके लिए कहा भी था। लेकिन, हेमंत माधुरी से शादी नहीं करना चाहता था। उसने माधुरी को यह सच बताने की बजाए उसे भटकाया। वह सामने से शादी का वादा करता रहा और पीछे से उसे मारने की साजिश रचता रहा।

सबसे पहले, हेमंत ले माधुरी को खुद से दूर करने के लिए उसे उसके पूर्व प्रेमी राहुल से झूठी शादी करने के लिए कहा। हेमंत ने ऐसा इसलिए किया ताकि माधुरी की हत्या के बाद सभी का शक राहुल पर जाए। उस पर किसी को संदेह न हो और वो बच कर निकल सके।

हेमंत के कहने पर माधुरी ने जब राहुल के साथ एक आर्य समाज मंदिर में 27 नवंबर 2016 को शादी की, तो हेमंत ने माधुरी के परिवार को उसके भागने की शिकायत कर दी। क्योंकि राहुल जाट था और माधुरी राजपूत इसलिए उनकी शादी से हंगामा मच गया। मामला जातिगत हो गया और पंचायत ने ये शादी भी रद्द कर दी।

23 दिसंबर को हेमंत ने माधुरी को अपने साथ चलने के लिए कहा। माधुरी इसके लिए तैयार हो गई और दोनों गन्ने के खेतों में छुप गए। हेमंत ने माधुरी से कहा कि जब तक कोई सुरक्षित और स्थाई जगह नहीं मिल जाती तब तक उन्हें वहीं छुपना होगा। माधुरी भी तीन दिनों तक वहां छुपी रही। जब उससे रहा नहीं गया, तो वह हेमंत से बार-बार सवाल पूछने लगी।

हेमंत के पास उसके सवालों का कोई जवाब नहीं था। तो उसने 26 दिसंबर को माधुरी के दुपट्टे से उसका गला घोंटकर हत्या कर दी। पहले तो किसी को हेमंत पर शक नहीं हुआ लेकिन बाद में फोन रिकॉर्ड खंगालने के बाद पुलिस के हाथ हेमंत के गले तक पहुंच ही गए और हत्या की पूरी कहानी सामने आई।