कैंसर की दवाई को मिली बेचने की इजाज़त

कैंसर की बिमारी को झेल रहे लोगों को अब कैंसर खत्म करने की दवाई को इस्तेमाल करने की इजाज़त मिल गई है...

कैंसर की दवाई को मिली बेचने की इजाज़त

कैंसर की बिमारी को झेल रहे लोगों को अब कैंसर खत्म करने की दवाई को इस्तेमाल करने की इजाज़त मिल गई है। ये दवाई शरीर में कैंसर सेल को खत्म करने में मदद करेगी। लंबे वक्त के बाद इसको मेलबर्न में तैयार किया गया है और अब ये बाजार में बिकने के लिए भी तैयार है। इस दवाई का नाम Venclexta है। यह दवाई शरीर में मौजूद कैंसर सेल को नष्ट करने में सहायक साबित हुई है।

बता दें कि इसको आखिरी इजाज़त थेरप्टिक गुड्स एडमिनिस्ट्रेशन (TGA) ने दी है। इस दवाई कर सेवन लिफोकेटिक ल्यूकोमिया के रोगी भी कर सकता है। अमेरिका में इस दवाई को पिछले साल अगस्त में बिक्री की इजाइज मिली थी। जानकारी के मुताबिक जिन रोगियों पर किसी भी दवाई का इस्तेमाल असर नहीं कर रहा है और जो रोगी दूसरी थेरेपी की और जाने लायक नहीं हैं। उनके लिए यह दवाई काफी कारगर साबित होगी।

Venetoclax BCL-2 प्रटीन को बढ़ने से रोक देती है जो कैंसर सेल के बढ़ने में मदद करती है। इस दवा को यहां तक पहुंचने में करीब 30 साल का लगा है। वाल्टर एलिजा हॉल इंंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल रिसर्च के डायरेक्टर डॉग हिल्टन के मुताबिक इस दवा को बाजार में बिकने की इजाजत मिलना लाखों कैंसर के रोगियों के लिए काफी अहम बात है। इस दवा को बनाने वाले डेविड हुआंग को इनोवेेशन इन मेडिकल रिसर्च के लिए वर्ष 2016 में यूरेका प्राइज भी मिल चुका है।