बेंगलुरु: 60 सीसीटीवी खंगाले, लेकिन नहीं मिला कोई सबूत

नए साल के जश्न के माैके पर बेंगलुरु के सेंट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट (सीबीडी) में छेड़छाड़ की कथित घटनाओं पर लोगों के गुस्से के चार दिन बाद बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर ने बीते गुरुवार को कहा कि उन्हें 60 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में छेड़छाड़ के कोई सबूत नहीं मिले हैं।

बेंगलुरु: 60 सीसीटीवी खंगाले, लेकिन नहीं मिला कोई सबूत

नए साल के जश्न के माैके पर बेंगलुरु के सेंट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट (सीबीडी) में छेड़छाड़ की कथित घटनाओं पर लोगों के गुस्से के चार दिन बाद बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर ने  बीते गुरुवार को कहा कि उन्हें 60 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में छेड़छाड़ के कोई सबूत नहीं मिले हैं। कमिश्नर प्रवीन सूद ने मीडिया से कहा कि 2 जनवरी को एक अखबार के हवाले कुछ धुंधली तस्वीरों के जरिए इस मुद्दे को उठाया था। हमने इसे बेहद गंभीरता से लिया क्योंकि हम इसे नजरअंदाज नहीं कर सकते थे। इसके बाद हमने 50-60 कैमरों की फुटेज खंगालना शुरू किया। मीडिया को भी विडियोज पुलिस से ही मिले थे। लेकिन हमें कहीं भी छेड़छाड़ का कोई सबूत नहीं मिला। सूद ने 1 जनवरी को ही चार्ज लिया है। उन्होंने कहा कि मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर 4 अलग मामले दर्ज किए गए। उन्होंने कहा कि ऩॉर्थ ईस्ट की एक महिला से छेड़छाड़ करने के आरोप में 4 युवकों को गिरफ्तार किया गया है।

वहीं पुलिस के मुताबिक महिला पुलिसवालों के कंधों पर रोती लड़कियों और उनके दोस्तों की तस्वीरें छेड़छाड़ की घटना से संबंधित नहीं है। उन्होंने कहा कि जब सीबीडी में भगदड़ मची थी तो पुलिस को भीड़ पर लाठीचार्ज करनी पड़ी, जिससे लड़कियां डर गईं। सूद ने मीडिया से ही सवाल किया कि उनके सामने छेड़छाड़ के मामले उस वक्त क्यों नहीं लाए गए, जब उन्होंने 1 जनवरी को चार्ज संभाला था। उन्होंने कहा कि पुलिस ने मीडिया द्वारा रिपोर्ट की गई छेड़छाड़ की इन 4 घटनाओं पर खुद संज्ञान लिया। उन्होंने कहा कि एक मामला इंदिरानगर में दर्ज किया गया जो सीबीडी से 7 किलोमीटर दूर है। एक फोटोग्राफर ने सोशल मीडिया पर कथित रूप से कहा कि एक लड़की के साथ छेड़छाड़ की गई, जिसके बाद उसने मनचले को सबक सिखाया।

सूद ने कहा कि एक लड़की ने सोशल मीडिया पर बताया कि उसके साथ क्या-क्या हुआ। हमने इसे सच मान लिया। हम उसे पिछले 2 दिन से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं। आखिर में हमने सोशल मीडिया और टीवी स्टूडियो में दिए गए उसके बयान पर खुद संज्ञान लिया।
उन्होंने कहा कि बाकी तीन मामले कुब्बन पार्क और अशोक नगर पुलिस स्टेशन में दर्ज किए गए। कुब्बन पार्क थाने में एक महिला ने कथित तौर पर आरोप लगाया है कि सीबीडी में उसके और उसके परिवार से साथ छेड़छाड़ हुई है।