चुनावी राज्यों में पीएम की होर्डिंग-विज्ञापन पर चुनाव आयोग का बड़ा फैसला

चुनाव आयोग ने पांच राज्‍यों में होने वाले चुनावों के मद्देनजर मुख्‍य चुनाव अधिकारियों को निर्देश दिया है कि सभी होर्डिंगों, विज्ञापनों में लगी राजनेताओं की तस्‍वीरें हटाई या ढंकी जाएं।

चुनावी राज्यों में पीएम की होर्डिंग-विज्ञापन पर चुनाव आयोग का बड़ा फैसला

चुनाव आयोग ने पांच राज्‍यों में होने वाले चुनावों के मद्देनजर मुख्‍य चुनाव अधिकारियों को निर्देश दिया है कि सभी होर्डिंगों, विज्ञापनों में लगी राजनेताओं की तस्‍वीरें हटाई या ढंकी जाएं। कांग्रेस ने सोमवार को चुनाव आयोग से विधानसभा चुनावों के मद्देनजर पीएम नरेंद्र मोदी के पोस्‍टर हटाए जाने की मांग की थी। कांग्रेस सचिव और कानून एवं मानवाधिकार विभाग के प्रमुख के.सी. मित्‍तल ने चुनाव आयोग को लिखी शिकायत में इसे लेकर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई थी। शिकायत में कहा गया था कि पांच राज्‍यों विधानसभा चुनाव से पहले, पेट्रोल पंपों समेत सभी सार्वजनिक स्‍थलों पर लगे सरकारी पोस्‍टर्स से नरेंद्र मोदी की तस्‍वीर हटाई जाए। कांग्रेस ने तेल कंपनियों द्वारा घरेलू गैस वितरण पहल के पोस्‍टर्स में मोदी की तस्‍वीर की मौजूदगी पर रोष जाहिर किया। मित्‍तल ने कहा कि चुनाव आयोग को ऐसे पोस्‍टर हटाने का आदेश देना चाहिए क्‍योंकि उत्‍तर प्रदेश, पंजाब, गोवा, उत्‍तराखंड और मणिपुर में होने वाली चुनावों के चलते लगी आदर्श आचार संहिता के दौरान इसकी इजाजत नहीं है।

मित्‍तल ने कहा था, ”प्रधानमंत्री की तस्‍वीरों के साथ केंद्र सरकार की होर्डिंग्‍स, पोस्‍टर्स, बैनर्स किसी भी चुनावी राज्‍य में नहीं लग सकते, क्‍योंकि यह आचार संहिता का उल्‍लंघन है और मुक्‍त चुनाव में बाधा बनेगा।” कांग्रेस ने अपनी शिकायत में कहा, ”आयोग से अनुरोध किया जाता है कि वह इन राज्‍यों में पेट्रोल पंपों व अन्‍य किसी भी स्‍थान से प्रधानमंत्री नरेंद्र की होर्डिंग्‍स, केंद्र सरकार या विभागों के किसी भी विज्ञापन, बैनर से उनकी तस्‍वीर हटवाने का आदेश दे।”

मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त नसीम जैदी और अन्‍य चुनाव आयुक्‍तों को लिखे पत्र में, मित्‍तल ने कहा कि आयोग ने चुनावी राज्‍यों में मुख्‍यमंत्रियों की तस्‍वीर वाले पोस्‍टर हटवाए हैं। ऐसा ही प्रधानमंत्री की तस्‍वीर के साथ भी किया जाना चाहिए।