×

BSF के बाद CRPF के जवान ने दर्द किया बयां, वीडियो वायरल

सेना व सीआरपीएफ के बीच सुविधाओं के बड़े अंतर पर सवाल खड़े करते हुए जवान ने प्रधानमंत्री से इसे खत्म करने की गुहार लगाई है।

बीएसएफ जवान के बाद मथुरा के सौंख क्षेत्र में रहने वाले सीआरपीएफ के जवान ने भी अपना दर्द बयां किया है। सेना व सीआरपीएफ के बीच सुविधाओं के बड़े अंतर पर सवाल खड़े करते हुए जवान ने प्रधानमंत्री से इसे खत्म करने की गुहार लगाई है। जिसका वीडियो वायरल हुआ है। इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि के लिए गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने वीडियो की जांच कराने की बात कही।

कस्बा सौंख के ग्राम सहजुआ थोक निवासी केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स के जवान जीत सिंह का प्रधानमंत्री के नाम वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें जवान ने कहा है कि देश में ऐसी कोई ड्यूटी नहीं, जिसे सीआरपीएफ नहीं करती हो। मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे से लेकर संसद भवन, चुनाव, वीआईपी व वीवीआईपी सुरक्षा में सीआरपीएफ को लगाया जाता है। इसके बाद भी सीआरपीएफ को वे सुविधाएं नहीं मिल पातीं, जो सेना को मिलती हैं। कहा है कि सेना को चिकित्सा, कैंटीन व सफर में आरक्षण जैसी सुविधा मिलती है।

सेवानिवृत्ति के बाद सेना के जवानों को अन्य संस्थानों में प्राथमिकता के आधार पर काम मिल जाता है, जबकि सीआरपीएफ के जवान को ये सुविधाएं नहीं मिलती हैं। जवान का कहना है कि शिक्षकों को हमसे अधिक वेतन मिलता है। वो सभी छुट्टियों का लाभ भी लेते हैं। लेकिन सीआरपीएफ में छुट्टियां समय से नहीं मिलतीं। क्या हम लोग इसके हकदार नहीं। प्रधानमंत्री से इस अंतर को खत्म करने की मांग की गई है। अंत में जवान ने वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करने को कहा है।

कौन है जीत सिंह?

जीत सिंह गरीब खेतिहर किसान का बेटा है। केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स में वह 20 मार्च 2012 में मणिपुर से भर्ती हुआ था। फिलहाल उसकी तैनाती माउंट आबू में है।

Top