चुनाव आयोग का तारीख टालने से इंकार, 1 फरवरी को ही पेश होगा आम बजट

यूपी समेत पांच राज्यों में 4 फरवरी से शुरू होने वाले विधानसभा चुनावों से ठीक 3 दिन पहले पेश होने वाले आम बजट को लेकर विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी, लेकिन चुनाव आयोग ने तारीख टालने से इंकार कर दिया है। 1 फरवरी को ही पेश होगा आम बजट...

चुनाव आयोग का तारीख टालने से इंकार, 1 फरवरी को ही पेश होगा आम बजट

यूपी समेत पांच राज्यों में 4 फरवरी से शुरू होने वाले विधानसभा चुनावों से ठीक 3 दिन पहले पेश होने वाले आम बजट को लेकर विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग से शिकायत की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विपक्षी दलों नेआरोप लगाया था कि चुनाव से 3 दिन पहले बजट पेश होने से केंद्र की सरकार को फायदा हो सकता है।  लेकिन चुनाव आयोग ने मामले पर बड़ा फैसला सुनाते हुए बजत पेश करने की तारीख टालने से इंकार कर दिया है।  1 फरवरी को ही पेश होगा आम बजट।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक चुनाव आयोग में शिकायत लेकर  जाने वाले नेताओं में कांग्रेस के आनंद शर्मा, गुलाम नबी आजाद, त्रिची शिवा, अहमद पटेल, टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन और सौगत रॉय, सपा के नेता नरेश अग्रवाल शामिल थे।

बता दें,  कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा था कि विपक्षी दलों ने अपनी आपत्ति आयोग के सामने रख दी है। चुनाव से ठीक 3 दिन पहले बजट पेश होने देना उचित नहीं है। उन्होंने यह भी कहा था कि 31 मार्च तक कभी भी बजट पेश किया जा सकता है। केंद्र सरकार को 8 मार्च को चुनाव खत्म होने के बाद बजट पेश करना चाहिए। ये निष्पक्ष चुनाव के लिए जरूरी है।

बताते चलें  विधानसभा चुनावों से पहले आम बजट पेश करने को लेकर विपक्षी दलों के विरोध के बीच केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने इस कदम का बचाव किया था। अरुण जेटली ने विपक्षियों पर निशाना साधते हुए पूछा था कि एक तरफ तो वे नोटबंदी को अलोकप्रिय फैसला बताते हैं, तो फिर वे इससे भयभीत क्यों हैं।