पश्चिम बंगाल: टीएमसी सांसद सुदिप बंदाेपाध्याय से CBI ने की पुछताछ

पश्चिम बंगाल सत्ताधारी सरकार तृणमूल कांग्रेस के सांसद सुदीप बनर्जी मंगलवार को रोजवैली चिटफंड घोटाला मामले में सीबीआई के सामने पेश हुए। इस मामले में सीबीआई की टीम सुदीप बांदोपाध्याय से पूछताछ कर रही है।

पश्चिम बंगाल: टीएमसी सांसद सुदिप बंदाेपाध्याय से CBI ने की पुछताछ

पश्चिम बंगाल सत्ताधारी सरकार तृणमूल कांग्रेस के सांसद सुदीप बनर्जी मंगलवार को रोजवैली चिटफंड घोटाला मामले में सीबीआई के सामने पेश हुए। इस मामले में सीबीआई की टीम सुदीप बांदोपाध्याय से पूछताछ कर रही है। केंद्रीय जांच एजेंसी ने पूछताछ के लिए तीसरा नोटिस जारी किया था। वहीं इससे पहले के दो नोटिसों का तृणमूल सांसद ने कोई जवाब नहीं दिया था।

इस मामले काे लेकर सुदीप बांदाेपाध्याय का कहना है कि "मुझे नहीं पता कि मुझे क्यों सीबीआई नोटिस भेजा जा रहा है"।  यही जानने के लिए मैं आया हूं। दूसरी तरफ इसी मामले में टीएमसी के एक अन्य सांसद तपस पाल से पिछले हफ्ते पूछताछ हुई थी। टीएमसी ने सीबीआई की कार्रवाई में अचानक आई तेजी के लिए केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाया है और कहा कि ये बदले की कार्रवाई है। टीएमसी का कहना है कि नोटबंदी के खिलाफ टीएमसी के अभियान के बदले ये कार्रवाई की जा रही है।

आपकाे बतादें कि नाेटबंदी काे लकेर टीएमसी मुखिया ममता बनर्जी ने पीएम माेदी पर कई सारे सवाल खड़ा किया था। यहां तक ममता ने पीएम माेदी के नाेटबंदी के फैसले काे एक बड़ा घाेटाला साबित कर दिया था। यहीं नहीं कांग्रेस के साथ मिल कर ममता विपक्षी दलाें काे नाेटबंदी के फैसले के खिलाफ एकजुट हाे गई थी। वहीं  इस मामले काे लेकर सुप्रीम कोर्ट ने अपना रुख साफ करते हुए सीबीआई काे निर्देश दिया है की करोड़ों रुपये के चिट फंड घोटाले की जांच हाे। इससे पहले टीएमसी के ही एक और सांसद कुणाल घोष और श्रींजॉय बोस और राज्य सरकार में मंत्री मदन मित्रा को गिरफ्तार भी किया गया था।