मानव श्रृंखला के दौरान बच्चों के बेहोश होने पर नीतीश ने कहा- कोई 'बड़ी बात' नहीं

मीडिया ने मानव श्रृंखला में हिस्सा ले रहे स्कूली बच्चों के कार्यक्रम के दौरान बेहोश होने पर सवाल किया तो नीतीश ने काफी अटपटा और बेतुका सा जवाब दिया। नीतीश ने कहा कि अगर मानव श्रृंखला कार्यक्रम के दौरान बच्चे गिर कर बेहोश हो गए, तो कौन सी बड़ी बात हो गई।

मानव श्रृंखला के दौरान बच्चों के बेहोश होने पर नीतीश ने कहा- कोई

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने शराबबंदी के समर्थन में शनिवार को बनी दुनिया की सबसे बड़ी मानव श्रृंखला का नेतृत्व किया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कार्यक्रम समाप्त होने के बाद नीतीश ने कहा कि मानव श्रृंखला सफल रही और इसमें 3 करोड़ लोगों ने हिस्सा लिया।

इस दौरान मीडिया ने मानव श्रृंखला में हिस्सा ले रहे स्कूली बच्चों के कार्यक्रम के दौरान बेहोश होने पर सवाल किया तो नीतीश ने काफी अटपटा और बेतुका सा जवाब दिया। नीतीश ने कहा कि जब पटना के गांधी मैदान में 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस का कार्यक्रम मनाया जाता है, तो हर बार कई पुलिस वाले भी कार्यक्रम के दौरान गिर कर बेहोश हो जाते हैं, ऐसे में अगर मानव श्रृंखला कार्यक्रम के दौरान बच्चे गिर कर बेहोश हो गए, तो कौन सी बड़ी बात हो गई।

बता दें कि शराबबंदी के समर्थन में जब बिहार के लोग नीतीश कुमार की अगुवाई में दुनिया की सबसे बड़ी मानव श्रृंखला बना रहे थे, उसी समय कई जिले जैसे कि समस्तीपुर, भागलपुर, पटना, पूर्णिया, कैमूर, मधुबनी, मुज़फ़्फ़रपुर और रोहतास में स्कूली बच्चों के इस 45 मिनट के मानव श्रृंखला कार्यक्रम के दौरान तेज धूप की वजह से गिरकर बेहोश हो गए। इन सभी जगह पर बेहोश हुए बच्चों को तत्काल अस्पताल में भर्ती कराकर प्राथमिक उपचार कराया गया।

वहीं अकेले समस्तीपुर में 8 बच्चे बेहोश हो गए, जिन्हें उपचार के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके साथ ही पटना के दुल्हन बाजार इलाके में भी जब कुछ बच्चे ऑटो रिक्शा में बैठकर मानव श्रृंखला कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहे थे, तो उसी वक्त उनकी ऑटो पलट गई, जिसकी वजह से इन बच्चों को काफी चोट आई।