लखनऊ: रैन बसेरा में साै रहे 4 मजदूराें काे कार ने कुचला

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शराब के नशे में धुत साहबजादों से भरी कार बीती रात करीब डेढ़ बजे एक रैन बसेरे में घुस गई, जिसमे चार मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई।

लखनऊ: रैन बसेरा में साै रहे 4 मजदूराें काे कार ने कुचला

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शराब के नशे में धुत अमीरजादाें से भरी कार बीती रात करीब डेढ़ बजे एक रैन बसेरे में घुस गई, जिसमे चार मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई। ये हादसा लखनऊ शहर के बहुखंडी मंत्री आवास के सामने बने रैन बसेरे में हुआ। आठ लोगों को इलाज के लिए सिविल अस्पताल भेजा गया, जिसमें चार की हालत काफी गंभीर है।

मीडिया रिपाेर्ट के मुताबिक गंभीर रूप से घायलाें काे इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर भेजा गया है। पकड़े गए युवकों में एक पूर्व विधायक तो एक उद्योगपति बेटा है। बताया जा रहा है कि डीजीपी आवास की तरफ से तेज गति से आ रही एक कार ने रैन बसेरे की लोहे की पाइप तोड़ते हुए भीतर घुस गई और सो रहे लोगों को बुरी तरह कुचल दिया। जिस वक्त हादसा हुआ, रैन बसेरे में 80 से अधिक मजदूर थे।

मृतकों की पहचान पृथ्वी राज, ननकऊ, अब्दुल और गोखरन के रूप में की गई है। यह सभी बहराइच के निवासी थे। मौके पर मिली कार पुनीत अरोड़ा के नाम से रजिस्टर्ड है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार कार में पांच लोग सवार थे जो हादसे  के बाद भागने लगे। इस बीच, रैन बसेरे में सो रहे लोगों ने इनमें से दो को पकड़ लिया और तीन भागने में कामयाब रहे। पकड़े गए युवकों में से एक पूर्व विधायक अशोक रावत का बेटा है जबकि एक उद्योगपति का बेटा है। इस मामले में हजरत गंज इंस्पेक्टर डीके उपाध्याय का कहना है कि दोनों युवकों से उनके साथियों के बारे पूछताछ की जा रही है।