राहुल, कांग्रेस के बाद अब एनएसजी वेबसाइट बनी हैकरों का निशाना

राहुल गांधी, दिग्विजय सिंह और कांग्रेस पार्टी के ट्विटर अकाउंट हैक होने के बाद अब राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) का नंबर लगा है। हैकरों ने एक जनवरी को एनएसजी की वेबसाइट को हैक कर लिया है...

राहुल, कांग्रेस के बाद अब एनएसजी वेबसाइट बनी हैकरों का निशाना

राहुल गांधी, दिग्विजय सिंह और कांग्रेस पार्टी के ट्विटर अकाउंट हैक होने के बाद अब राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) का नंबर लगा है। हैकरों ने एक जनवरी को एनएसजी की वेबसाइट को हैक कर लिया है। जिसमें साइबर क्रिमिनल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक बातें भी लिखी।

बता दें कि नोटबंदी के बाद से मोदी सरकार लोगों से कैशलेस ट्रांजेक्शन अपनाने की अपील कर रही हैं। साइबर क्राइम के बढ़ते बड़े अपराध सरकार के लिए चुनौती साबित हो सकती है। पाकिस्तान से जुड़े संदिग्ध हैकरों ने राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) की वेबसाइट को हैक कर लिया और उस पर प्रधानमंत्री और भारत विरोधी आपत्तिजनक बातें पोस्ट की हैं।




अधिकारियों ने बताया कि हैकिंग की इस कोशिश का पता कि एनएसजी की वेबसाइट हैक कर ली गई है उसके बाद उसके बाद एनएसजी की वेबसाइट को यहां स्थित उसके मुख्यालय से ब्लॉक कर दिया गया। हैकरों ने वेबसाइट के होम पेज पर आपत्तिजनक बातें पोस्ट कर दी।

अधिकारियों का कहना है कि इस कोशिश के पिछे पाकिस्तान के हैकरों का हाथ है। हालांकि अभी तक इस संबंध में पूरा ब्यौरा नहीं मिल सका है। लगातार बढ़ रहे साइबर क्राइम के बड़े मामलों के बाद बैंकों के सर्वर को सुरक्षित रखना भी चुनौती बन गया है। आने वाले समय में सरकार को साइबर अपराध से निबटने के लिए कठोर कानून के साथ-साथ तकनीक को भी विकसित करना होगा।