मुश्किल में 'तृषा'

अभिनेत्री तृषा कृष्णन को तमिलनाडु के पारंपरिक खेल जल्लीकट्टू के समर्थकों की ओर से किए गए विरोध प्रदर्शन के कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

मुश्किल में

दक्षिण भारतीय फिल्म अभिनेत्री तृषा कृष्णन को तमिलनाडु के पारंपरिक खेल जल्लीकट्टू के समर्थकों की ओर से किए गए विरोध प्रदर्शन के कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। तृषा पशु कल्याण संगठन पेटा का समर्थन करती हैं, जो जल्लीकट्टू के खिलाफ है।

जल्लीकट्टू के समर्थकों ने पेटा की समर्थक होने के कारण तमिलनाडु में चल रही तृषा की फिल्म की शूटिंग में बाधा डाली। प्रदर्शनकारी पशु कल्याण संगठन के समर्थन के लिए तृषा से माफी की मांग कर रहे थे।

तृषा काफी समय से ‘पीपुल फॉर एथिकल ट्रीटमेंट एनिमल्स’ से जुड़ी हुई हैं, जो सांड़ों के खेल जल्लीकट्टू के खिलाफ अभियान चला रही है। संस्था की मांग है कि इस खेल का समर्थन करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

जल्लीकट्टू के गुस्साए समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए त़ृषा की आगामी फिल्म ‘गर्जनई’ की शूटिंग में बाधा डाली, जिसके कारण फिल्म की शूटिंग काफी समय तक रुकी रही।

समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए तृषा से उनकी वैनिटी वैन से बाहर आकर माफी मांगने की मांग की है। इस दौरान, प्रदर्शनकारी जोर से नारे लगा रहे थे। पुलिस ने तृषा को सुरक्षा दी। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि जब तक तृषा पेटा का समर्थन करने के लिए माफी नहीं मांग लेती, तब तक उन्हें तमिलनाडु में फिल्म की शूटिंग नहीं करने दी जाएगी। जल्लीकट्टू के समर्थकों ने पेटा पर प्रतिबंध की मांग की है।