शांतिवार्ता स्थापित करने में भारत सहयोग नहीं कर रहा है: सरताज अजीज

इंडिया पर दादागिरी करने का आरोप लगाते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने कहा है कि दोनों देशों के बीच शांतिवार्ता स्थापित करने में भारत सहयोग नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत के इस रवैये को बर्दाश्त नहीं करेगा।

शांतिवार्ता स्थापित करने में भारत सहयोग नहीं कर रहा है: सरताज अजीज

इंडिया पर दादागिरी करने का आरोप लगाते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने कहा है कि दोनों देशों के बीच शांतिवार्ता स्थापित करने में भारत सहयोग नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत के इस रवैये को बर्दाश्त नहीं करेगा।












इस मामले पर सरताज पीएम मोदी पर तंज कसते हुए अजीज ने कहा, "मोदी खुद को अधिनायक के तौर पर स्थापित करना चाहते हैं इसलिए उनका पूरा चुनावी प्रचार पाक-विरोधी भावनाओं के इर्द-गिर्द चलाया गया था।" सरताज अजीज ने भारत पर आरोप लगाया कि, "मोदी कश्मीर मुद्दे पर बात करना नहीं चाहते, उन्हें सिर्फ वहां आतंकवाद ही दिखाई देता है।"

अंतरराष्ट्रीय मीडिया से बात करते हुए अजीज ने कहा कि भारत नियंत्रण रेखा पर समस्याओं से ध्यान हटाने की कोशिश कर रहा है। यही नहीं अजीज ने कहा कि क्षेत्र में भारत द्वारा 'मानवाधिकारों के उल्लंघन' को दुनिया ने देखा है। अजीज ने कहा कि, "बिना कश्मीर मुद्दे पर बातचीत किए हम भारत के साथ कोई संवाद नहीं करेंगे। न ही भारत के साथ शांति स्थापित करने के लिए कोई समझौता करेंगे।" मोदी पर हमला बोलते हुए अजीज ने कहा कि, "एक बार चुनाव खत्म होने दीजिए, उसके बाद पाकिस्तान के साथ वार्ता के मुद्दे पर मोदी सरकार का रुख भी बदल जाएगा।"

सरताज ने कहा कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (CPEC) में भारत के शामिल होने के सवाल पर अजीज ने कहा कि कोई भी देश इस परियोजना में इंफ्रास्ट्रक्चर को सुधारने में सब-कॉन्ट्रैक्टर की तरह भागीदारी निभा सकता है। उन्होंने कहा कि चीन-पाक ने मिलकर इस तरह के सभी अनुरोधों पर सहमति जताई है। अजीज ने अखबार से बातचीत में अफगानिस्तान में अशांति फैलाने में किसी तरह की भूमिका होने से इनकार किया। उन्होंने कहा कि पाक वास्तव में साल 2017 में अफगानिस्तान के साथ अपना संबंध सुधारना चाहता है।