मणिपुर के मुख्यमंत्री के खिलाफ चुनाव लड़ेगीं: इराेम शर्मिला

इराेम शर्मिला जाे मणिपुर में कठोर कानून सशस्त्र बल अधिनियम (एएफएसपीए) को हटाने की मांग को लेकर लगातार 16 वर्षों तक अनशन कर चुकीं ने यह एलान कर दिया है कि वह मणिपुर राज्य के मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी सिंह के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ेंगी।

मणिपुर के मुख्यमंत्री के खिलाफ चुनाव लड़ेगीं: इराेम शर्मिला

इराेम शर्मिला जाे मणिपुर में कठोर कानून सशस्त्र बल अधिनियम (एएफएसपीए) को हटाने की मांग को लेकर लगातार 16 वर्षों तक अनशन कर चुकीं ने यह एलान कर दिया है कि वह मणिपुर राज्य के मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी सिंह के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ेंगी।

आपकाे बता दें कि इरोम ने बीते साल नौ अगस्त को अपना अनशन खत्म करके अक्टूबर महीने में 'पीपुल्स रिसर्जेस एंड जस्टिस अलायंस' नामक पार्टी का गठन किया है।

मीडिया रिपाेर्ट के मुताबिक इरोम ने आेकरामसिंह पर आरोप लगाया कि 15 सालों के कार्यकाल के दौरान मुख्यमंत्री राज्य से एएफएसपीए हटाने को लेकर असक्षम रहे आैर कुछ भी नहीं किया है। उन्होंने कहा कि उन्होंने महसूस किया कि इसे कोई भी राजनेता नहीं हटाएगा और इसलिए वे अब चुनाव लड़कर मुख्यमंत्री बनेंगी और इस कठोर कानून को हटाएंगी। कठोर कानून हो हटाने के लिए अपना जीवन कुर्बान करने की ओर इशारा करते हुए इरोम ने कहा कि इसे हटाना उनका दृढ़ संकल्प है।

उधर, मुख्यमंत्री इबोबी सिंह ने कहा कि इंफाल नगर निगम के सात विधानसभा क्षेत्रों से एएफएसपीए हटा दिया गया है और वादा किया गया है कि अगर हालात सकारात्मक रहे, तो अन्य इलाकों से भी इसे हटा दिया जाएगा। ओकराम इबोबी सिंह लगातार तीन कार्यकाल से मुख्यमंत्री हैं और थुबल विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित होते आ रहे हैं।