तुर्की: इस्तांबुल में आईएसआईएस ने किया था हमला, मरने वाले में दाे भारतीय

तुर्की के इस्तांबुल शहर के रियान नाइट क्लब में हुए हमले में आईएसआईएस का हाथ था। इस्लामिक स्टेट ने इसकी जिम्मेदारी ली है। इस हमले में दाे भारतीय भी मारे गए।

तुर्की: इस्तांबुल में आईएसआईएस ने किया था हमला, मरने वाले में दाे भारतीय

तुर्की के इस्तांबुल शहर के रियान नाइट क्लब में हुए हमले में आईएसआईएस का हाथ था। इस्लामिक स्टेट ने इसकी जिम्मेदारी ली है। हमले में दाे भारतीय नागरिक भी मारे गए। 'रोर' मूवी के प्रोड्यूसर अबीस रिजवी और गुजरात की खुशी शाह की भी इस हमले में मौत हो गई। अबीस पूर्व राज्यसभा सांसद अख्तर रिजवी के बेटे थे। सुषमा स्वराज ने रविवार रात ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। फॉरेन मिनिस्टर ने दोनों भारतीयों के फैमिली मेंबर्स से फोन पर बात भी की। सुषमा ने कहा, इस्तांबुल से बुरी खबर है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया कि मेरे पास तुर्की से बुरी खबर है। उन्होंने कहा, "इस्तांबुल हमले में दो भारतीय नागरिक भी मारे गए।" सुषमा ने अगले ट्वीट में लिखा, "पूर्व राज्यसभा सांसद के बेटे अबीस रिजवी और गुजरात की खुशी शाह इस हमले में मारे गए।"

अबीस रिजवी और खुशी शाह के हमले में मारे जाने की खबर के बाद उनके फैमिली मेंबर्स इस्तांबुल के लिए रवाना हुए।अबीस के पिता अख्तर रिजवी और मां तुर्की के लिए रविवार देर शाम रवाना हुईं। सुषमा ने उनके वीजा की व्यस्था के लिए अधिकारियों को कहा। वहीं सुषमा को ट्विटर पर ये इन्फॉर्मेशन मिली कि खुशी के भाई और कजिन बिना वीजा के इस्तांबुल के लिए रवाना हुए। सुषमा ने ट्वीट कर कहा, "दोनों के वीजा की व्यवस्था पहले ही कर ली गई है।"

सुषमा ने तुर्की में भारत के एम्बेसडर राहुल कुलश्रेष्ठ से कहा कि वो भारतीय परिवारों को इस्तांबुल एयरपोर्ट पर रिसीव  करें और सभी जरूरी व्यवस्थाएं करें।

इस्तांबुल हमले में मारे गए अबीस हसन पूर्व राज्यसभा सांसद अख्तर हसन रिजवी के बेटे और रिजवी बिल्डर्स के सीईओ भी थे। अबीस बॉलीवुड डायरेक्टर/प्रोड्यूसर भी थे और सेलिब्रिटी सर्किल में अबीस फेमस भी थे। अबीस ने 'रोर: टाइगर ऑफ सुंदरबन' मूवी प्रोड्यूस की थी। इस मूवी का प्रमोशन सलमान खान ने किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अबीस दोस्तों के साथ न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए तुर्की गए थे।

तुर्की की इंटीरियर मिनिस्टर सुलेमान सोयलू के मुताबिक, हमले में 39 लोगों की मौत हो गई। 21 की पहचान कर ली गई है। मारे गए लोगों में 16 विदेशी और 5 तुर्क थे।"  लोकल टाइम के मुताबिक, रात करीब 1.45 बजे सांता क्लॉज की ड्रेस में एक हमलावर ने राइफल से लोगों पर फायरिंग शुरू कर दी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हमलावर ने क्लब में घुसने से पहले पुलिस पर फायरिंग की। बाद वो क्लब में भी अंधाधुंध फायरिंग करने लगा। हमले के वक्त क्लब में 700 से 800 लोग मौजूद थे।