पंजाब के सीएम कैंडिडेट होंगे अरविंद केजरीवाल- मनीष सिसोदिया

अभी तक ये बातें हो रही थी लेकिनअब ये साफ होने लगा है कि अरविंद केजरीवाल दिल्ली को सिसोदिया के हवाले कर पंजाब का सीएम बनने की सोच रहे हैं।

पंजाब के सीएम कैंडिडेट होंगे अरविंद केजरीवाल- मनीष सिसोदिया

आम आदमी पार्टी ने पंजाब के चुनाव में बड़ा दांव खेल दिया है। पार्टी ने मैजिक नंबर पर पहुंचने के लिए आप के राष्ट्रीय संयोजकअरविन्द केजरीवाल को पंजाब का मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया है। मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि केजरीवाल पंजाब में सीएम कैंडिडेट होंगे। मनीष ने ये बयान मोहाली में एक रैली में प्रचार के दौरान दिया। उन्होंने कहा कि ये भाई पूछ रहे थे कि पंजाब का मुख्यमंत्री कौन बनेगा? मैं कहता हूं कि पंजाब के सीएम अरविंद केजरीवाल होंगे। आप ये मानकर चलेंं कि पंजाब का मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल होंगे।  वहीं उन्होने यह भी कहा कि सीएम  कोई भी बने आपके साथ किए वादे केजरीवाल ही पूरा करेंगे।  केजरीवाल की यह जिम्मेदारी है कि पंजाब की जनता से किए गए वादे पूरे किए जाए। अलग अलग सर्वे में पंजाब में आप को तीसरा स्थान मिला है। एेसे में आप दिल्ली की तरह बहुमत पर पहुंचना चाहती है। ऐसे में पार्टी चाहती है कि आप को पंजाब चुनाव में बहुमत मिले जिससे आप यहां सरकार बना सके। केजरीवाल ने पंजाब का चुनाव जीतने के लिए सारी ताकत झौंक रखी है। वे खुद यहां रह कर संजय सिंह के साथ चुनाव का कामकाज देख रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि केजरीवाल दिल्ली में मुख्यमंत्री का पद मनीष सिसोदिया को सौंप कर खुद पंजाब आएंगे। आपको बता दें कि पंजाब के 117 विधानसभा सीटों के लिए 4 फरवरी को मतदान होना है।

सिसोदिया ने क्या कहा ? 
पंजाब आम आदमी पार्टी के तमाम बड़े नेता यह बात साफ कर चुके हैं कि मुख्यमंत्री पंजाब से ही होगा और पंजाबी होगा, और मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान विधानसभा चुनावों के बाद विधायकों की रजामंदी से किया जाएगा. दिल्ली के डिप्टी सीएम और आम आदमी पार्टी के सीनियर लीडर मनीष सिसोदिया ने पंजाब के मोहाली में चुनावी रैली के दौरान ये बयान दे दिया कि पंजाब की जनता केजरीवाल के चेहरे को देखकर ही वोट करें और यह मानकर चलें कि पंजाब के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ही होंगे. मुख्यमंत्री चाहे कोई भी हो लेकिन पंजाब की जनता को जो वायदे किये गये हैं वह अरविंद केजरीवाल ही पूरे करेंगे.

अकाली दल ने कहा- हम तो पहले ही कहते रहे हैं
सिसोदिया के इस बयान के सामने आने के बाद ही पंजाब में सियासी पारा काफी चढ़ गया. अकाली दल ने अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि वो तो पहले ही कहते रहे हैं कि अरविंद केजरीवाल पंजाब का मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं ताकि केंद्र सरकार के साथ वो अपनी लड़ाई पंजाब के सहारे कर सकें और इसी वजह से ही अरविंद केजरीवाल ने अब तक किसी भी पंजाब के नेता के नाम का ऐलान बतौर पंजाब सीएम नहीं किया है. अकाली दल ने कहा कि केजरीवाल बैक डोर से पंजाब के सीएम बनना चाहते हैं. वही पंजाब में आम आदमी पार्टी के पूर्व कन्वीनर रह चुके और पार्टी से निकाले जा चुके सुच्चा सिंह छोटेपुर ने भी अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि उनको तो पहले से ही पता था कि अरविंद केजरीवाल पंजाब का सीएम बनने का सपना देख रहे हैं और इसी वजह से पंजाब के एक के बाद एक नेता को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाने की कोशिश कर रहे हैं. सुच्चा सिंह छोटेपुर और अकाली दल की तरफ से पंजाब के डिप्टी सीएम सुखबीर बादल और अकाली दल के प्रवक्ता मनजिंदर सिंह सिरसा ने आम आदमी पार्टी के पंजाबी नेताओं को चैलेंज करते हुए कहा कि अगर उनमें थोड़ी सी भी गैरत बची है तो वो आम आदमी पार्टी को तुरंत छोड़ दें. क्यूंकि ये पार्टी ना तो पंजाब के हित में सोचती है और ना ही ये पार्टी पंजाब के किसी चेहरे को आगे रख कर पंजाब में राजनीति करने वाली हैं।