कांग्रेस उम्मीदवारों के खिलाफ चुनाव लड़े सपा नेता- मुलायम सिंह यादव

मुलायम सिंह यादव ने कांग्रेस और सपा के गठबंधन का खुलकर किया विरोध, तमाम नेताओं से सभी 105 कांग्रेस की सीटों पर निर्दलीय लड़ने को कहा।

कांग्रेस उम्मीदवारों के खिलाफ चुनाव लड़े सपा नेता- मुलायम सिंह यादव

समाजवादी पार्टी के भीतर विद्रोह के बाद एक तरफ जहां अखिलेश यादव ने पार्टी की कमान अपने हाथ में ले ली और कांग्रेस के साथ गठबंधन का ऐलान कर दिया। लेकिन कांग्रेस के साथ गठबंधन के खिलाफ मुलायम सिंह यादव ने विरोधी सुर छेड़ दिए हैं, उन्होंने सपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन का विरोध करते हुए कहा कि मैं इस गठबंधन के खिलाफ हूं और मैं इस गठबंधन के लिए प्रचार नहीं करुंगा। यही नहीं पार्टी सूत्रों की मानें तो मुलायम ने कांग्रेस की 105 सीटों पर भी पार्टी के नेताओं को नामांकन करने को कहा है।

मुलायम सिंह ने तमाम पार्टी के नेताओं को उन सभी सीटों पर पर्चा भरने को कहा है जिसे गठबंधन में सपा ने कांग्रेस को दे दिया है। सपा-कांग्रेस गठबंधन में अखिलेश यादव ने कांग्रेस को 105 सीटें दी है, लेकिन मुलायम ने पार्टी के नेताओं से कहा है कि कांग्रेस की सभी 105 सीटों से वह निर्दलीय पर्चा भरे और चुनाव लड़े। यही नहीं मुलायम ने सभी नेताओं को निर्देश दिया है कि वह कांग्रेस के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरें और चुनाव लड़े। गठबंधन के खिलाफ नाराजगी जताते हुए मुलायम सिंह ने कहा था कि जो कार्यकर्ता और नेता चुनाव लड़ना चाहते थे वह अब क्या करेंगे, कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के बाद 105 सीटों पर सपा के उम्मीदवार निराश हुए हैं। खांग्रेस ने इतने सालों तक प्रदेश और देश में राज किया लेकिन विकास के नाम पर कुछ नहीं किया लिहाजा मैं इस गठबंधन के खिलाफ हूं और मैं इसके लिए प्रचार नहीं करुंगा। आपको बता दें कि सपा की कमान अखिलेश के हाथों में जाने के बाद तमाम सपा नेता भाजपा या बसपा का दामन थाम चुके हैं। सूत्रों की मानें तो इन तमाम नेताओं ने मुलायम सिंह से मुलाकात के बाद कहा कि आपके साथ खड़े रहने का हमें क्या फायदा हुआ, आज ना हमारे पास टिकट है और ना सम्मान।