नर्सरी के दाखिले शुरू, 2 फरवरी से 23 फरवरी तक होंगे एडमिशन, ये है पूरी प्रक्रिया

नर्सरी के दाखिले के लिए आज राजधानी में दौड़ शुरू हो जाएगी। दाखिले की प्रक्रिया 2 जनवरी से शुरू होगी और ये प्रक्रिया 23 जनवरी तक चलेगी। सामान्य श्रेणी में आने वाले आवेदन के इच्छुक अभिभावक अपनी सहूलियत के हिसाब से संबंधित स्कूल में आवेदन कर सकते हैं....

नर्सरी के दाखिले शुरू, 2 फरवरी से 23 फरवरी तक होंगे एडमिशन, ये है पूरी प्रक्रिया

नर्सरी के दाखिले के लिए आज राजधानी में दौड़ शुरू हो जाएगी। दाखिले की प्रक्रिया 2 जनवरी से शुरू होगी और ये प्रक्रिया 23 जनवरी तक चलेगी। सामान्य श्रेणी में आने वाले आवेदन के इच्छुक अभिभावक अपनी सहूलियत के हिसाब से संबंधित स्कूल में आवेदन कर सकते हैं।


हालांकि, सिर्फ उन्हीं स्कूलों में दाखिले की खिड़की खुलने जा रही है जो कि निजी जमीनों पर बने हैं। शिक्षा निदेशालय ने फिलहाल आर्थिक पिछड़े वर्ग और सरकारी जमीनों पर चलने वाले निजी स्कूूलों के लिए गाइडलाइंस जारी नहीं की है। ऐसे में अभिभावकों में दाखिलों को लेकर असमंजस बरकरार है। दाखिले के लिए फार्म सभी स्कूलों में प्रात: 8 से 12 बजे के दौरान मिलेंगे।


बता दें कि बीते साल की तरह 75 सामान्य श्रेणी की सीटें 100 अंक वाले फॉर्मूले से ही भरी जाएंगी। जबकि 25 फीसदी सीटें आर्थिक पिछड़े वर्ग और वंचित वर्ग के बच्चों के लिए होंगी। स्कूलों की मनमानी रोकने के लिए शिक्षा निदेशालय पहले ही दाखिले की गाइड लाइंस जारी कर चुका है। स्कूलों को साफ कर दिया गया है कि कोई भी स्कूल नर्सरी दाखिले के लिए आवेदन की आखिरी तारीख से पहले आवेदन प्रक्रिया बंद नहीं कर सकते हैं। नर्सरी दाखिले की पहली सूची 15 फरवरी को जारी होगी। दाखिले की अंतिम तिथि 31 मार्च है।





साथ ही नर्सरी दाखिले को लेकर अभिभावकों में अभी भी असमंजस बरकरार है। सरकार की ओर से अभी तक सरकारी जमीन पर बने 298 स्कूलों में नर्सरी दाखिला कैसे होगी, इसे लेकर कोई दिशा निर्देश जारी नहीं किया है। इसमें दिल्ली के नामचीन स्कूल भी शामिल है। सरकार का कहना है कि वह नर्सरी दाखिला नीति बना चुके हैं।  एलजी से मंजूरी मिलते ही वह इसे लागू कर देंगे।

कैसे पूरी करें दाखिले की प्रक्रिया

- नोटिस बोर्ड और वेबसाइट पर नर्सरी दाखिले का पूरा ब्योरा मौजूद होगा।

- नर्सरी में दाखिले के लिए बच्चे की उम्र कम से कम तीन साल होनी चाहिए।

- एडमिशन फार्म की फीस 25 रूपए से ज्यादा वसूल नहीं होगी।

- स्कूलों में बच्चों का दाखिला प्वाइंट सिस्टम के आधार पर ही होगा।
- पहली सूची आने के बाद यदि अभिभावकों को सूची को लेकर कोई शिकायत है तो इसका निपटारा 16 फरवरी से 18 फरवरी के बीच होगा।





जमा करें ये जरूरी कागजात






- जन्म प्रमाण पत्र।

- रिहायशी प्रमाण पत्र (पासपोर्ट, बिजली का बिल, टेलीफोन का बिल, वोटर आईडी, किरायेदार होने पर किराए संबंधी करार)।
- अभिभावक के नाम का राशन कॉर्ड

- बच्चे व अभिभावक के नाम का डोमोसाइल प्रमाणपत्र
- अभिभावक का वोटर आई-कार्ड
- माता या पिता के नाम का आधार कार्ड
- गर्ल चाइल्ड व फर्स्ट चाइल्ड की स्थिति में अभिभावकों की ओर से सर्टिफिकेट या हलफनामा।
- एकल अभिभावक होने पर भी देना होगा हलफनामा।
- सिबलिंग के मामले में पहले से स्कूल में पढ़ रहे बच्चे के आईडी कार्ड की फोटोकॉपी।
- विशेष छात्र होने पर संबंधित प्रमाणपत्र।
- स्थानांतरण के मामले में संबंधी दस्तावेज।
- छात्र के साथ अभिभावकों के पासपोर्ट साइज फोटो भी।
- आर्थिक रूप से पिछड़े परिवारों के छात्रों के अभिभावकों का आय प्रमाण पत्र।