'दंगल' के सीन में राष्ट्रगान की धुन पर खड़े नहीं हुए बुजुर्ग साथ मारपीट, केस दर्ज

दंगल फिल्म के एक सीन में राष्ट्रगान की धुन बजने पर खड़े नहीं होने की वजह से एक बुजुर्ग के साथ मारपीट की घटना सामने आई हैं। बताया जा रहा है यह घटना गोरेगांव के पास एक थियेटर की है।

दंगल फिल्म के एक सीन में राष्ट्रगान की धुन बजने पर खड़े नहीं होने की वजह से एक बुजुर्ग के साथ मारपीट की घटना सामने आई हैं। बताया जा रहा है यह घटना गोरेगांव के पास एक थियेटर की है। मुंबई पुलिस ने बीते सोमवार को आरोपी लड़के के खिलाफ मारपीट, बदसलूकी और शांति भंग करने का केस दर्ज किया है। बता दें कि पिछले साल 30 नवंबर को दिए ऑर्डर में सुप्रीम कोर्ट ने सभी मूवी थिएटर्स में फिल्म शुरू होने से पहले राष्ट्रगान बजाना जरूरी किया था। ऑर्डर में कहा गया था कि राष्ट्रगान प्ले हो उस वक्त थियेटर में मौजूद सभी लोगों को खड़े रहना होगा। ऐसा नहीं करने पर 3 साल की सजा हो सकती है। हालांकि, दंगल फिल्म में धुन आखिरी सीन में बजती है।

मीडिया रिपाेर्ट के मुताबिक, पिछले बुधवार शाम को 59 साल के अमलराज दसन कुछ रिश्तेदारों के साथ आमिर खान स्टारर 'दंगल' मूवी देखने गए थे। फिल्म के आखिर के एक सीन में रेसलर गीता फोगाट के गोल्ड मेडल जीतने पर राष्ट्रगान की धुन बजती है। थियेटर में इस धुन पर सभी खड़े हो जाते हैं, लेकिन अमलराज बैठे रहे। इस पर शिरीष मधुकर नाम के शख्स ने एतराज जताया। कहासुनी के दौरान आरोपी ने बुजुर्ग के चेहरे पर मुक्का मार दिया।आरोप है कि इस दौरान शिरीष ने बुजुर्ग को धमकी भी दी। वहीं पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है।


चेन्नई के थियेटर में भी हुई थी मारपीट

12 दिसंबर को चेन्नई के एक थियेटर में 8 लड़के-लड़कियों का ग्रुप मूवी देखने पहुंचा था। फिल्म शुरू होने से पहले राष्ट्रगान हुआ।
आरोप था कि ग्रुप के सभी लोग राष्ट्रगान के दौरान खड़े नहीं हुए। वे सेल्फी लेने में बिजी थे। इस पर वहां मौजूद लोगों ने उनकी पिटाई कर दी थी। शिकायत पर राष्ट्रगान के अपमान के आरोप में 7 लड़के-लड़कियों के खिलाफ पुलिस ने केस भी दर्ज किया था। मारपीट पर कोई कार्रवाई नहीं की गई थी।


क्या है सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर?

सुप्रीम कोर्ट ने 30 नवंबर को ऑर्डर दिया था कि देश के सभी सिनेमाहॉल में मूवी शुरू होने से पहले राष्ट्रगान जरूर बजेगा। इस दौरान स्क्रीन पर तिरंगा नजर आना चाहिए। साथ ही, राष्ट्रगान के सम्मान में सिनेमाहॉल में मौजूद सभी लोगों को खड़ा होना होगा।
राष्ट्रगान के दौरान सिनेमाहॉल के गेट बंद कर दिए जाएं, ताकि कोई इसमें खलल न डाल पाए। कोर्ट ने कहा- राष्ट्रगान को ऐसी जगह छापा या लगाया नहीं जाना चाहिए, जिससे इसका अपमान हो। राष्ट्रगान से कमर्शियल बेनिफिट नहीं लेना चाहिए। कोर्ट ने यह ऑर्डर भी दिया कि राष्ट्रगान को आधा-अधूरा नहीं सुनाया या बजाया जाना चाहिए। इसे पूरा करना चाहिए।