पठानकोट हमले को एक साल पूरा, अभी भी आजाद घूम रहे हैं आतंकियों के सरगना

पंजाब के पठानकोट हमले को आज एक साल पूरा हो गया है और इस हमले का मुख्य आरोपी जैश-ए-मोहम्मद कमांडर मौलाना मसूद अजहर गिरफ्त से बाहर है। पिछले साल 2 जनवरी को पंजाब के पठानकोट में पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन पर आतंकी हमला हुआ था। आतंकियों से मुठभेड़ में 7 जवान शहीद हो गए थे और 37 लोग घायल हो गए थे।

पठानकोट हमले को एक साल पूरा, अभी भी आजाद घूम रहे हैं आतंकियों के सरगना

पंजाब के पठानकोट हमले को आज एक साल पूरा हो गया है और इस हमले का मुख्य आरोपी जैश-ए-मोहम्मद के कमांडर मौलाना मसूद अजहर गिरफ्त से बाहर है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पिछले साल 2 जनवरी को पंजाब के पठानकोट में पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन पर आतंकी हमला हुआ था।आतंकियों से मुठभेड़ में 7 जवान शहीद हो गए थे और 37 लोग घायल हो गए थे। इस हमले में सभी हमलावर आतंकी भी मारे गए थे, लेकिन इस हमले के एक साल बाद भी यह नहीं कहा जा सकता है कि हमारा देश पाक प्रायोजित आतंकवाद से अपना बचाव करने में सक्षम है।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक पठानकोट हमले के बाद भी जम्मू-कश्मीर में कई आतंकी हमले हो चुके है। जिनमें हमारे देश के कई जवान शहीद हो गए।पठानकोट आतंकी हमले के मुख्य सरगना अब भी पाकिस्तान में आजाद घूम रहे हैं और उन पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। वहीं पठानकोट हमले पर एनआईए द्वारा दाखिल 101 पन्ने की चार्जशीट में जैश-ए-मोहम्मद के कमांडर मौलाना मसूद अजहर, उसके भाई अब्दुल रउफ असगर, लांचिंग कमांडर शाहिद लतीफ और हैंडलर कासिफ जान को मुख्य अारोपी बनाया गया है।