पीएम मोदी की पाक को चेतावनी, अच्छे रिश्ते के लिए आतंकवाद छोड़ो

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्पष्ट संदेश देते हुए कहा कि पाकिस्तान अगर भारत के साथ द्विपक्षीय वार्ता शुरू करना चाहता है तो उसे आतंकवाद से अलग होना होगा...

पीएम मोदी की पाक को चेतावनी, अच्छे रिश्ते के लिए आतंकवाद छोड़ो

भारत-पाक संबंधों में चल रही घमासान के बीच  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्पष्ट संदेश देते हुए आज कहा कि पाकिस्तान अगर भारत के साथ द्विपक्षीय वार्ता शुरू करना चाहता है तो उसे आतंकवाद से अलग होना होगा. समन्वित पड़ोस की अपनी पहल को रेखांकित करते हुए मोदी ने कहा कि सम्पूर्ण दक्षिण एशिया के साथ सौहार्दपूर्ण एवं शांतिपूर्ण संबंध उनकी पड़ोस के प्रति सोच को रेखांकित करता है.

तीन दिन चलने वाले रायसीना डायलॉग के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ भारत अकेले शांति के पथ पर नहीं चल सकता है. यह पाकिस्तान के सफर का मार्ग भी होना चाहिए. पाकिस्तान अगर भारत के साथ वार्ता करना चाहता है तो उसे आतंकवाद से अलग होना होगा. ’’ इस दौरान उन्होंने अपनी लाहौर यात्रा समेत पाकिस्तान के साथ संबंधों को सामान्य बनाने की दिशा में उठाये गए कई कदमों को याद किया.

पीएम मोदी ने पड़ोसी देशों के साथ सबंधों और सुरक्षा के मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि हमारे नागरिकों की सुरक्षा सबसे अहम है. उन्होंने ये भी कहा कि हमारी संस्कृति में सिर्फ अपने हितों की चिंता करना ही नहीं सिखाया गया है बल्कि हमारे सपने में एक ऐसी सुरक्षा व्यवस्था है, जिसमें पड़ोसियों के साथ मजबूत सुरक्षा घेरा हो.

पीएम मोदी ने कहा कि जो आतंकवाद, हिंसा और नफरत के निर्यात में लगे हैं वो अलग-थलग रहेंगे. रुस के साथ भारत के सबंधों पर पीएम मोदी ने कहा कि रूस भारत का पुराना और अभिन्न मित्र है. प्रेसिडेंट पुतिन से अपनी लंबी बात का भी उन्होंने जिक्र किया.