'रईस' को लगी बुरी नज़र, पाक में नहीं हुई रिलिज: माहिरा खान

शाहरूख खान के साथ फिल्म 'रईस' से डब्यू करने वाली पाकिस्तानी एक्टर माहिरा खान की किस्मत में सफलता लिखी थी। इसी वजह से उन्हें बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के साथ डेब्यू करने का मौका मिला...

शाहरूख खान के साथ फिल्म 'रईस' से डब्यू करने वाली पाकिस्तानी एक्टर माहिरा खान की किस्मत में सफलता लिखी थी। इसी वजह से उन्हें बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के साथ डेब्यू करने का मौका मिला। माहिरा की किस्मत उनका साथ दे ही रही थी कि उरी हमले की वजह से पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में काम करने पर बैन लग गया है। बदले में पाकिस्तानी सिनेमा मालिकों ने भी भारतीय फिल्मों की रिलीज पर रोक लगा दी थी। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक माहिरा ने रईस के पाकिस्तान में रिलीज ना होने पर अपना दुख व्यक्त किया है।

बता दें कि माहिरा का कहना है कि मैं पाकिस्तान की पहली लड़की हूं जिसे शाहरुख खान के साथ लीड एक्ट्रेस के तौर पर काम करने का मौका मिला। लेकिन मुझे लगता है कि मेरी कामयाबी को बुरी नजर लग गई है। इसी वजह से यह फिल्म पाकिस्तान में रिलीज नहीं हो रही है। हालांकि कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया है कि बॉलीवुड फिल्मों को पाकिस्तानी सिनेमा में दिखाने की इजाजत मिल गई है। इस पर एक्ट्रेस ने कहा कि यह अच्छे संकेत हैं। देश में एक बार फिर से बॉलीवुड फिल्में दिखेंगी। पाकिस्तानी फिल्में मेरी प्राथमिकताएं हैं। हालांकि रोल के मामले में मैंने कभी समझौता नहीं किया है। क्वालिटी के हिसाब से अच्छी फिल्मों में मैं काम करुंगी और हर तरह के किरदार निभाऊंगी।

गौरतलब है कि बॉलीवुड स्टार शाहरुख खान के साथ ‘रईस’ में नजर आईं एक्ट्रेस माहिरा खान ने एक इंटरव्यू में कहा कि ईमानदारी से कहूं तो शाहरुख खान सचमुच एक जादू हैं। उन्होंने मुझे उम्र भर के लिए बिगाड़ दिया। माहिरा ने पाकिस्तान के मशहूर अखबार डॉन को दिए एक इंटरव्यू में हाल ही में उनके शाहरुख के साथ किए प्रोजेक्ट रईस को लेकर बातचीत की। जब उनसे पूछा गया कि शाहरुख खान के साथ काम करने का उनका अनुभव कैसा रहा तो इस पर माहिरा ने कहा कि आप कृपया मुझसे कुछ और पूछ लीजिए क्योंकि इस सवाल का जवाब देते देते मैं थक चुकी हूं।

इस पर जब उनसे शाहरुख के बारे में कुछ बताने को कहा गया तो उन्होंने कहा कि वह सचमुच एक जादू हैं, ईमानदारी से कह रही हूं। उन्होंने मुझे उम्र भर के लिए बिगाड़ दिया। वह मुझे बताते रहते थे कि मुझे चीजों को इस तरह करना चाहिए, उस तरह करना चाहिए। एक बार मैंने उनसे पूछा कि क्या मैं यह ठीक कर रही हूं? तो उन्होंने कहा कि देखो, मैं तुम्हें सिर्फ वो बता रहा हूं, जो मैं जानता हूं, मेरे अनुभव से। तुम इसे अपने तरीके से करो लेकिन मैं बस इतना चाहता हूं कि जब तुम खुद को स्क्रीन पर देखो तो वापस आकर मुझसे यह मत कहना कि तुमने मुझे ये बताया क्यों नहीं। इसके अलावा अगर बात करूं तो वह हद से ज्यादा स्मार्ट हैं। कोई भी ऐसी चीज नहीं है जिसके बारे में आप उनसे बात नहीं कर सकते।