टेनिस को जल्द ही अलविदा कह सकते हैं: रोज़र फे़डरर

रफेल नडाल को हराकर ऑस्ट्रेलियाई ओपन खिताब अपने नाम करने वाले रोजर फेडरर ने संकेत दिया कि वह कैरियर के आखिरी पड़ाव पर हैं। स्विटजरलैंड के इस 35 वर्षीय धुरंधर ने कहा कि अगले साल उनके यहां लौटने की गारंटी नहीं है।

टेनिस को जल्द ही अलविदा कह सकते हैं: रोज़र फे़डरर

रफेल नडाल को हराकर ऑस्ट्रेलियाई ओपन खिताब अपने नाम करने वाले रोजर फेडरर ने संकेत दिया कि वह कैरियर के आखिरी पड़ाव पर हैं। स्विटजरलैंड के इस 35 वर्षीय धुरंधर ने कहा कि अगले साल उनके यहां लौटने की गारंटी नहीं है। उन्होंने यह जानकारी बीते रविवार को नडाल को पांच सेटों के फाइनल में हराकर 18वां ग्रैंडस्लैम एकल खिताब जीता। मीडिया रिपाेर्टस के मुताबिक खिताब जीतने के बाद उन्होंने कहा,‘उम्मीद है कि अगले साल मिलेंगे लेकिन नहीं भी मिले तो यहां इस साल प्रदर्शन शानदार रहा। मैं बहुत खुश हूं।’ इतने साल तक संन्यास की अटकलों को खारिज करते आ रहे फेडरर ने कहा कि उन्हें अब पता है कि चोटों के कारण उन्हें विदा लेनी पड़ सकती है।

उन्होंने आगे कहा कि,‘यदि मैं चोटिल हो गया या अगले साल नहीं खेल सका तो कौन जानता है कि आगे क्या होगा। आप नहीं जानते कि अगला ग्रैंडस्लैम कब जीतेंगे या जीतेंगे भी कि नहीं। इस मुकाम पर आपको पता नहीं होता कि अगला मौका कब मिलेगा।’ उन्होंने कहा,‘मैंने ऐसा सोचा नहीं है कि यह मेरा आखिरी ऑस्ट्रेलियाई ओपन है। उम्मीद है कि मैं वापस आ सकूंगा लेकिन यह उम्मीद ही है।’