काैन करेगा साइकिल की सवारी, निर्वाचन आयाेग आज सुना सकता है फैसला

चुनाव आयोग आज सोमवार को समाजवादी पार्टी के चुनाव चिन्ह विवाद पर फैसला सुना सकता है। बताया जा रहा है कि आज इस बात का फैसला हो जाएगा कि कौन साइकिल की सवारी करेगा।

काैन करेगा साइकिल की सवारी, निर्वाचन आयाेग आज सुना सकता है फैसला

चुनाव आयोग आज सोमवार को समाजवादी पार्टी के चुनाव चिन्ह विवाद पर फैसला सुना सकता है। बताया जा रहा है कि आज इस बात का फैसला हो जाएगा कि कौन साइकिल की सवारी करेगा। बता दे कि इससे पहले 13 जनवरी को अमुलायम खेमे और अखिलेश गुट की तरफ से साइकिल सिंबल को लेकर करीब पांच घंटे तक चुनाव आयोग में बहस हुई थी। जिसके बाद आयोग ने अपना फैसला सुरक्षित कर लिया था। बताया जा रहा कि 3 बजे तक आयोग अपना फैसला सुना सकता है।

वहीं पर  17 जनवरी से पहले चरण के लिए नामांकन शुरू होगा, लिहाजा आज किसी भी सूरत में चुनाव आयोग को साइकिल सिंबल पर फैसला सुनाना होगा। माना जा रहा है कि ज्यादा उम्मीद सिंबल के फ्रीज होने की है। इस सूरत में दोनों ही खेमों को अलग-अलग चुनाव चिन्ह प्रदान किया जाएगा। एक्सपर्ट्स के मुताबिक अखिलेश और मुलायम गुट आज के फैसले की बेसब्री से इन्तजार कर रहे हैं क्योंकि सिंबल फ्रीज होने की दशा में दोनों को ही एक नए सिंबल के साथ प्रत्याशियों को मैदान में उतारना होगा।

बहरहाल बीते रविवार को दिल्ली से लखनऊ पहुंचे शिवपाल यादव ने दावा किया कि साइकिल चुनाव चिन्ह मुलायम को ही मिलेगा और आयोग के फैसले के बाद स्थिति पूरी तरह साफ़ हो जाएगा।

इस बीच अखिलेश और मुलायम खेमों ने अपने प्लान बी को तैयार कर लिया है। साइकिल सिंबल के फ्रीज होने पर जहां मुलायम सिंह लोक दल के चुनाव निशान पर मैदान में उतरने की तयारी में हैं, वहीँ अखिलेश खेमे का कहना है कि अखिलेश ही उनका चेहरा है। लिहाजा चुनाव चिन्ह उनके लिए कोई मायने नहीं रखता। इतना ही नहीं अखिलेश गुट कांग्रेस और अन्य छोटे दलों के साथ गठबंधन की तैयारी भी पूरी कर चूका है।