टी20: बुमराह की शानदार गेंदबाजी से दूसरे मैच में भारत ने दर्ज की जीत

ओपनर बल्लेबाज लोकेश राहुल के शानदार अर्धशतक और तेज गेंदबाजों आशीष नेहरा और जसप्रीत बुमराह की धारदार गेंदबाजी की बदौलत भारत ने दूसरे टी20 मैच के रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड को पांच रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 1-1 की बराबरी कर ली।

टी20: बुमराह की शानदार गेंदबाजी से दूसरे मैच में भारत ने दर्ज की जीत

ओपनर बल्लेबाज लोकेश राहुल के शानदार अर्धशतक और तेज गेंदबाजों आशीष नेहरा और जसप्रीत बुमराह की धारदार गेंदबाजी की बदौलत भारत ने दूसरे टी20 मैच के रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड को पांच रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 1-1 की बराबरी कर ली।

पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 145 रन बनाए। इस लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड को अंतिम पांच ओवर में सिर्फ 41 रन की दरकार थी लेकिन नेहरा (28 रन पर तीन विकेट) और बुमराह (20 रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने मेहमान टीम छह विकेट पर 139 रन ही बना सकी।

आखिरी ओवर में बुमराह ने धमाकेदार गेंदबाजी की और सिर्फ दो रन दिए। इतना ही नहीं बुमराह ने इस आखिरी ओवर में दो विकेट लेकर भारत को जीत दिला दी। आखिरी ओवर का रोमांच अपने चरम पर था। इस ओवर में इंग्‍लैंड को जीत के लिए सिर्फ 8 रनों की जरूरत थी। ऐसा लग रहा था मैच भारत की झोली से निकल गया है लेकिन इस अनिश्चितताओं के खेल में आखिरी गेंद फेंके जाने तक कुछ भी कहना मुश्किल था।

आखिरी ओवर में कप्‍तान विराट कोहली ने बुमराह पर भरोसा करते हुए गेंद उनके हाथ में सौंप दिया। बुमराह ने अपने कप्‍तान के विश्वास को कायम रखा और पहली ही गेंद पर 38 के स्कोर पर खेलते हुए जो रुट को एलबीडब्ल्यू आउट कर तहलका मचा दिया। रुट के आउट होने से पूरा स्‍टेडियम झूम उठा। दूसरी गेंद पर अली ने एक रन बनाया। अब इंग्‍लैंड के सामने जीत के लिए चार गेंद पर 7 रन रह गये थे। बुमराह ने तीसरी गेंद फेंकी, जिसमें बटलर बीट हो गये। अब जीत के लिए तीन गेंद पर 7 रन चाहिए थे। चौथी गेंद पर बुमराह ने बटलर को बोल्‍ड कर दिया। इसके बाद भी भारत के उपर से खतरा नहीं टला था, क्‍योंकि इंग्‍लैंड को दो गेंद पर जीत के लिए 7 रन चाहिए थे। बुमराह ने पांचवीं गेंद फेंगी जिसमें एक रन अतिरिक्‍त के रूप में इंग्लैंड को मिले। अब इंग्‍लैंड को जीत के लिए एक गेंद पर 6 रन चाहिए थे। बुमराह ने आखिरी गेंद इतनी कसी हुई डाली की इंग्‍लैंड के बल्‍लेबाज मोइन अली कोई रन नहीं बना पाये और इस तरह से भारत ने बुमराह के धमाकेदार गेंदबाजी के दम पर मैच जीत लिया।