इस्‍लाम पर बोलते ही जान से मारने की धमकी मिलने लगती है: तस्‍लीमा

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में लेखिका तस्‍लीमा नसरीन ने कहा कि वह महिलाओं, हिंदू, बौद्ध, सिख और ईसाई धर्म की आलोचना करती हैं तो कोई परेशानी नहीं होती है, लेकिन इस्‍लाम की आलोचना करते ही उन्‍हें जान से मारने की धमकियां मिलने लगती हैं।

इस्‍लाम पर बोलते ही जान से मारने की धमकी मिलने लगती है: तस्‍लीमा

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में लेखिका तस्‍लीमा नसरीन ने कहा कि वह महिलाओं, हिंदू, बौद्ध, सिख और ईसाई धर्म की आलोचना करती हैं तो कोई परेशानी नहीं होती है, लेकिन इस्‍लाम की आलोचना करते ही उन्‍हें जान से मारने की धमकियां मिलने लगती हैं।