खुशखबरी: केंद्रीय कर्मचारियों की न्यूनतम पेंशन में बढ़ोतरी

केंद्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार ने नए साल पर शानदार तोहफा दिया है। केंद्रीय कर्मियों की न्यूनतम पेंशन 9000 रुपये कर दी है। इसके साथ ही क्षतिपूर्ति राशि को भी दोगुना कर दिया गया है।

खुशखबरी: केंद्रीय कर्मचारियों की न्यूनतम पेंशन में बढ़ोतरी

केंद्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार ने नए साल पर शानदार तोहफा दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुतबिक केंद्रीय कर्मियों की न्यूनतम पेंशन 9000 रुपये कर दी है। इसके साथ ही क्षतिपूर्ति राशि को भी दोगुना कर दिया गया है।

मीडिया में आ रही खबरों के मुतबिक केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने गुरुवार को पीएम कार्यालय में इसकी जानकारी दी और बताया कि इस समय देश में करीब 50.55 लाख पेंशनभोगी हैं। इसका फैसला स्वयंसेवी एजेंसियों की स्थायी समिति की 29वीं बैठक में लिया गया।

उन्होंने बताया कि करीब 88 प्रतिशत पेंशन खातों को आधार से जोड़ दिया गया है। इससे पहले कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने आदेश जारी करते हुए कहा था कि सभी 50 लाख पेंशनभोगी और करीब चार करोड़ अंशधारक जनवरी के अंत तक आधार संख्या उपलब्ध कराएं।

वहीं संगठन ने कहा था कि जिनके पास आधार कार्ड नहीं हैं उन्हें जनवरी के अंत तक इस बात का सबूत देना होगा कि उन्होंने इसके लिए आवदेन दे दिया है। इसके साथ ही संगठन ने साफ तौर पर कह दिया है कि EPFO की सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए आधार अनिवार्य कर दिया गया है।

बता दें कि मंत्रालय द्वारा विज्ञप्ति के अनुसार न्यूनतम पेंशन बढ़ाकर 9000 और क्षतिपूर्ति राशि 10.15 लाख रुपये से बढ़ाकर 25.35 लाख रुपये कर दी गई है। वहीं पेंशन में देरी होने की समस्या से निपटने के लिए केंद्र ने अपने सभी विभागों के सचिवों को निर्देश जारी किया है कि पेंशन के मामलों का निपटान इलेक्ट्रोनिक माध्यमों से किया जाए।