दिल्ली सरकार का ऐलान, घायलों को अस्पताल पहुंचाने पर मिलेंगे 2000 रुपए

दिल्ली सरकार ने अपनी घोषणा में कहा है कि जो भी व्यक्ति घायलों को अस्पताल ले जाएगा उसे दिल्ली सरकार की तरफ से इनाम दिया जाएगा।

दिल्ली सरकार का ऐलान, घायलों को अस्पताल पहुंचाने पर मिलेंगे 2000 रुपए

दिल्ली में आए दिन सड़क दुर्घटना अब परेशानी का सबब बनता जा रहा है, रोज ऐक्सिडेंट से कितनी ही जाने जा रही है। कोई वक्त पर अस्पताल न पहुचने के कारण अपनी जान गवा देता है तो कोई जीवन भर के लिए अपाहिज हो जाता है। ऐसे में इस विषय की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली सरकार ने एक खास ऐलान किया है। दरअसल जब भी ऐसी घटना का कोई शिकार होता है तो राह चलते लोग बस देखते ही रह जाते है, कोई मदद को नहीं सामने नहीं आता।

दिल्ली सरकार ने अपनी घोषणा में कहा है कि जो भी व्यक्ति घायलों को अस्पताल ले जाएगा उसे दिल्ली सरकार की तरफ से इनाम दिया जाएगा।  अकसर ये देखने में आता है कि कोई भी व्‍यक्ति सड़क हादसे में घायल लोगों की मदद इसलिए नहीं करता है क्‍योंकि उसे पुलिस स्‍टेशन के चक्‍कर लगाने होंगे ।

बता दें इसी सिलसिले में गत वर्ष  सुप्रीम कोर्ट द्वारा गृहमंत्रालय को आदेश जारी किया था कि ऐसे मामलों में मदद करने वाले लोगों को न तो पुलिस परेशान करेगी और न ही उन्हें कानूनी दांव-पेंच में उलझाया जाएगा.

SC फैसला: अब सड़क दुर्घटना में घायलों की मदद करने पर पुलिस नहीं कर पाएगी परेशान

दरअसल, सेव लाइफ फाउंडेशन नामक संगठन ने ज‍नहित याचिका दाखिल की थी जिसमें उन्‍होंने कहा कि सड़क पर लोग इसलिए जख्मी लोगों की मदद नहीं करते, क्योंकि पुलिस उन्हें परेशान करती है. इसके बाद केंद्र सरकार ने सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में इसके लिए गाइडलाइन जारी की थी.

बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि सड़क दुर्घटना के मामले में अगर कोई मददगार स्‍वेच्‍छा से गवाह बनता भी है तो उसे बार-बार कोर्ट आने के लिए भी परेशान नहीं किया जाएगा. ऐसे व्‍यक्‍तियों के लिए पुलिस वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए कोर्ट में गवाही कराने की व्‍यवस्‍था भी करेगी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आदेश का पालन न करने वाले पुलिस कर्मियों और अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई होगी.