तुर्कीः इस्तांबुल में आतंकी हमला, 2 भारतीय समेत 39 लोगों की मौत

पूरी दुनिया में लोग जहां नए साल का जश्न में डूबे थे वहीं तुर्की के शहर इस्तांबुल में नए साल शुरू होने के महज एक घंटे बाद एक नाइट क्लब में दो हमलावरों ने अचानक अंधाधुंध फायरिंग की जिसमें 39 लोगों की मौत हो गई। इनमें दो भारतीयों सहित 16 विदेशी हैं।

तुर्कीः इस्तांबुल में आतंकी हमला, 2 भारतीय समेत 39 लोगों की मौत

पूरी दुनिया में लोग जहां नए साल का जश्न में डूबे थे वहीं तुर्की के शहर इस्तांबुल में नए साल शुरू होने के महज एक घंटे बाद एक नाइट क्लब में दो हमलावरों ने अचानक अंधाधुंध फायरिंग की जिसमें 39 लोगों की मौत हो गई। इनमें दो भारतीयों सहित 16 विदेशी हैं। इस घटना में 69 लोग घायल हो गए। सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है। इनमें कुछ की हालत नाजुक है। मृतकों में से करीब 21 की पहचान हो गई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नए साल का जश्न मना रहे करीब 700 लोगों के बीच दो हमलावर सांता क्लॉज बनकर वहां आए थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हमलावर अरबी बोल रहे थे। किसी भी आतंकी गुट ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। फायरिंग की आवाज सुन कर कई लोग डर के मारे बेहोश हो गए। कुछ लोग जान बचाने के लिए स्वीमिंग पूल में कूद गए। रिपोर्ट के मुताबिक तुर्की के गृहमंत्री सुलेमान सोएलू ने कहा कि हमलावर लोकप्रिय रैना नाइट क्लब में गार्ड सहित दो लोगों की हत्या करने के बाद घुसे थे। वे अपने कपड़ों के भीतर कलाशनिकोव छिपा कर लाए थे। फायरिंग करने के बाद वे फरार हो गए। उनकी तलाश की जा रही है। घायल विदेशियों में मोरक्को, लेबनान, सऊदी अरब और लीबिया के नागरिक हैं।

नाइट क्लब के मालिक मेहमत कोशार्सलान के अनुसार अमेरिकी गुप्तचर एजेंसी से सूचना मिलने के बाद 10 दिन पहले से ही क्लब की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। इस्तांबुल के गवर्नर वासिप साहिन ने बताया कि नाइट क्लब में अरब के बहुत से लोग थे। इनमें कई घायल हुए हैं। एक इजरायली युवती भी मारी गई है। ये सभी केवल नए साल का जश्न मनाने यहां आए थे।

राष्ट्रपति तैयिप एर्दोगन ने इस घटना को तुर्की को अस्थिर करने की साजिश बताया है। ज्ञात हो कि कुछ दिन पहले यानि 10 दिसंबर को इस्तांबुल में ही फुटबॉल मैच में हुए बम विस्फोट में 44 लोग मारे गए थे।

मृतक भारतीयों में राज्यसभा के पूर्व सांसद का बेटा भी है। मृतभारतीयों में मुंबई के अबीस गुजरात की खुशी शाह हैं। रिजवी राज्यसभा सांसद रहे अख्तर हुसैन रिजवी के बेटे थे।