यूपी: नामी डॉ. की सरेआम अस्पताल में घुसकर हत्या

मशहुर डॉक्टर की अस्पताल में हत्या, शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच में जुटी पुलिस, सीएम अखिलेश भी मृतक डॉक्टर को कर चुके हैं सम्‍मानित ।

यूपी: नामी डॉ. की सरेआम अस्पताल में घुसकर हत्या

इलाहाबाद में एक डॉक्‍टर को गुरुवार रात उनके हॉस्पिटल के चैंबर में घुसकर एक युवक ने गोली मार दी। चश्‍मदीद वार्ड ब्वॉय शैलेंद्र पाठक ने बताया कि चैंबर के अंदर घुसे युवक ने अचानक पिस्टल निकाली और डॉक्‍टर की कनपटी पर गोली मार दी। जिसके बाद वह कुर्सी से नीचे गिर गए। जब वह उठने की कोशिश कर रहे थे, तभी आरोपी ने दो-तीन फायर और कर दिए।

गंभीर हालत में डॉक्‍टर को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुटी है। अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरे से छानबीन की जा रही है। जानकारी के मुताबिक सीएम अखिलेश यादव भी मृतक डॉक्‍टर को सम्‍मानित कर चुके हैं।

क्‍या है पूरा मामला?

आमतौर पर वह अस्पताल में 7 बजे से मरीजों को देखना शुरू करते हैं, लेकिन गुरुवार की शाम वह 6.35 पर ही पहुंच गए। वे अपने चैंबर में मरीजों को देख रहे थे। इसी दौरान उसी समय 2 लोग वहां आए। एक युवक चैंबर के बाहर खड़ा हो गया और एक अंदर घुस गया।

फायरिंग की आवाज सुनकर अस्पताल के लोग मौके पर पहुंचे। हालांकि, तब तक आरोपी युवक अपने साथी के साथ पीछे के रास्ते से फरार हो गया। अस्पताल की रिसेप्शनिस्ट रेनू ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची।

एसएसपी शलभ माथुर के अनुसार, गोली मारने वालों के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से जांच की जा रही है। पूछताछ में पता चला है कि दोनों आरोपी पैंट-शर्ट पहने थे और गले में गमछा लपेटे हुए थे।

डॉ. अश्विनी की पत्नी वंदना बंसल भी शहर की मशहूर डॉक्टर हैं। वह वूमेंस हॉस्पिटल और अर्पित टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर चलाती हैं। वंदना के मुताबिक, डॉ. बंसल का शहर के बिल्डर संजीव अग्रवाल से विवाद चल रहा था। करीब 3 महीने पहले भी बंसल पर बम से हमला हुआ था। उस मामले में संजीव अग्रवाल पर केस दर्ज कराया गया था।

बंसल पर भी कई केस पहले से चल रहे थे। पैसों के लेन देन के विवाद, मरीजों के तीमारदारों से अस्पताल में उनके कर्मचारियों की अभद्रता जैसे कई मामले हैं। उन पर खाद्यान आपूर्ति घोटाले में भी केस चल रहे थे। जमीन को लेकर भी विवाद थे, जिसमें एक नेता से भी उनकी तनातनी थी, जो अंदरूनी थी। माना जा रहा कि हत्‍या के पीछे किसी प्रोफेशनल किलर का हाथ है। पुलिस हर पहलू से मामले की जांच कर रही है।