यूपी चुनाव: अखिलेश खुद ले रहे महागठबंधन पर फैसले, कांग्रेस को 90 सीटें देने पर राजी

यूपी चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के साथ कई अन्य दलों के महागठबंधन की बात लगभग हो चुकी है लेकिन कई बातों को लेकर अभी भी चर्चा जारी है। महागठबंधन को लेकर अखिलेश यादव खुद सारे फैसले ले रहे हैं। अखिलेश कांग्रेस को 90 सीटें देने पर राजी हैं लेकिन कांग्रेस अपने लिए 100 से ज्यादा सीटें मांग रही है।

यूपी चुनाव: अखिलेश खुद ले रहे महागठबंधन पर फैसले, कांग्रेस को 90 सीटें देने पर राजी

यूपी चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के साथ कई अन्य दलों के महागठबंधन की बात लगभग हो चुकी है लेकिन कई बातों को लेकर अभी भी चर्चा जारी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक महागठबंधन को लेकर अखिलेश यादव खुद सारे फैसले ले रहे हैं। अखिलेश कांग्रेस को 90 सीटें देने पर राजी हैं लेकिन कांग्रेस अपने लिए 100 से ज्यादा सीटें मांग रही है।

सपा की आरएलडी से कोई बातचीत नहीं: किरणमय नंदा
समाजवादी पार्टी उपाध्यक्ष किरणमय नंदा ने कहा है कि हम सिर्फ कांग्रेस से बात कर रहे हैं। आरएलडी से कोई बातचीत नहीं हो रही है। उन्होंने कहा कि आरजेडी, जेडीयू और टीएमसी सिर्फ समर्थन देंगीं, उनके साथ सीटों को लेकर कोई बातचीत नहीं हो रही है।

कांग्रेस 100 सीटों से कम पर राजी नहीं
यूपी चुनाव के लिए हुई कांग्रेस कमेटी की बैठक में राहुल और प्रियंका गांधी मौजूद थे। मंगलवार देर रात तक ये मीटिंग हुई। राहुल गांधी ने मीटिंग में कहा कि हम अकेले यूपी में सरकार नहीं बना पा रहे थे, इसलिए बीजेपी को हराने के लिए गठबंधन का फैसला किया। वहीं राहुल ने साफ किया कि हम प्रदेश में कम से कम 100 सीटों पर लड़ेंगे। कांग्रेस की तरफ से यूपी में घोषित सीएम उम्मीदवार शीला दीक्षित ने मंगलवार को एलान किया था कि वह अखिलेश के लिए सीएम पद की दावेदारी छोड़ने को तैयार हैं।

जल्द हो सकता है गठबंधन पर फैसला
मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक कांग्रेस के यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने गठबंधन को लेकर जल्द बात पूरी हो जाने की उम्मीद जताई। बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव में 403 सीटें हैं। अगर कांग्रेस समाजवादी पार्टी के इस फॉर्मूले पर राजी होती है तो फिर सपा सोनिया गांधी और राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्रों रायबरेली और अमेठी की कई सीटें कांग्रेस के लिए छोड़ सकती है।