जस्टिस ठकुर की विदाई समाराेह में खूब हुआ हसीं-मजाक

पूर्व उच्च न्यायाधीश जस्टिस टीएस ठाकुर के फेयरवेल पर खूब हंसी-मजाक हुआ। उनके बारे में नए चीफ जस्टिस जेएस खेहर ने कई मजेदार बातें बताईं। जस्टिस खेहर ने कहा ठाकुर पहले काफी हैंडसम थे।

जस्टिस ठकुर की विदाई समाराेह में खूब हुआ हसीं-मजाक

पूर्व उच्च न्यायाधीश जस्टिस टीएस ठाकुर के फेयरवेल पर खूब हंसी-मजाक हुआ। उनके बारे में नए चीफ जस्टिस जेएस खेहर ने कई मजेदार बातें बताईं। जस्टिस खेहर ने कहा, वह पहली बार ठाकुर से पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट में मिले थे और तब वह काफी हैंडसम थे। खेहर ने कहा, अगर वह एक हैंडसम इंसान थे, तो सोचिए महिलाओं के लिए वह क्या होंगे। यह पता करने में देर नहीं लगती थी कि एक महिला उनके बारे में क्या फील करती है।

मीडिया रिपाेर्ट के मुताबिक नए सीजेआई ने यह भी बताया कि कैसे उन्होंने हैरिस जैकिट पर ठाकुर की टांग खिंचाई की थी, जो उन्होंने न्यू यॉर्क से खरीदी थी। जस्टिस खेहर ने जस्टिस ठाकुर से कहा, आपको हैरिस ब्रिटेन से मिली थी। लेकिन जस्टिस ठाकुर ने कहा कि वह न्यू यॉर्क एयरपोर्ट पर थे, वहां कुछ करने के लिए नहीं था। एयरपोर्ट पर एक लो दूसरी मुफ्त पाओ की सेल लगी हुई थी तो मैंने दो जैकेट ले ली। जस्टिस खेहर ने बताया कि जब जस्टिस ठाकुर के लिए वह जैकेट आईं तो वह पूरा बंडल था।

जस्टिस खेहर ने अन्य किस्से के बारे में  कहा कि एक बार जस्टिस ठाकुर कोरिया में किसी मीटिंग के लिए लेट थे। जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह सो गए थे। पूर्व सीजेआई पर चुटकी लेते हुए जस्टिस खेहर कहते हैं कि वह और ठाकुर चॉक और चीज की तरह हैं। मुझे नहीं पता कि वह एक दिन में तीन भाषण कैसे दे देते हैं। उन्होंने इतनी किताब रिलीज की हैं, जितनी शायद ही किसी ने की हों। उनका नाम लिम्का बुक अॉफ रिकॉर्ड में भी शामिल हो सकता है।

चीफ जस्टिस खेहर ने कहा कि एक बार जस्टिस ठाकुर ने कहा था कि वह रिटायरमेंट के बाद अपने खेतों में ट्रैक्टर चलाना चाहते हैं, मुझे लगता है अब उनके पास खाली समय है तो वह एेसा कर सकते हैं। जस्टिस ठाकुर को असाधारण गुणों वाला शख्स बताते हुए जस्टिस खेहर ने उन्हें शुभकामनाएं दीं। इसके बाद जस्टिस ठाकुर ने अपने भाषण में कहा कि पिछले 7 वर्षों से मैं यहां जज हूं और मैंने 27-28 फेयरवेल में भाग लिया है, लेकिन कभी लोगों का एेसा जमावड़ा नहीं देखा। उन्होंने कहा कि मैं जस्टिस खेहर के साथ बैठा था और मैंने उनसे कहा कि देखिए कितने लोग आपका स्वागत करने के लिए जमा हुए हैं। उन्होंने कहा कि वह सिर्फ नए सीजेआई के लिए नहीं आए, बल्कि आपके लिए आए हैं। मैंने पूछा क्यों तो जस्टिस खेहर ने कहा कि वह एक शानदार चीफ जस्टिस की विदाई का जश्न मना रहे हैं।