ध्रुव की गिरफ्तारी से 'बैकफुट' पर बीजेपी, आईएसआई से संपर्क का आरोप

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से संबंध रखने के आरोप में गिरफ्तार बीजेपी युवा मोर्चा के आईटी सेल के संयोजक ध्रुव सक्सेना के मामले में बीजेपी बैकफुट पर है. बीजेपी का कहना है कि पार्टी का ध्रुव सक्सेना से कोई संबंध ही नहीं है।

ध्रुव की गिरफ्तारी से

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से संबंध रखने के आरोप में गिरफ्तार बीजेपी युवा मोर्चा के आईटी सेल के संयोजक ध्रुव सक्सेना के मामले में बीजेपी बैकफुट पर है. बीजेपी का कहना है कि पार्टी का ध्रुव सक्सेना से कोई संबंध ही नहीं है. जबकि ध्रुव की मां ने आरोप लगाया है कि बीजेपी के दूसरे बड़े नेताओं ने साज़िश करके उनके बेटे को फंसाया है.

बैकफुट पर बीजेपी, कहा पार्टी से कोई संबंध नहीं

वहीं बीजेपी अब इस पूरे मामले में बैकफुट पर नजर आ रही है. जहां एक तरफ बीजेपी का कहना है कि घ्रुव सक्सेना का पार्टी से कोई संबंध नहीं है, वहीं ध्रुव के पड़ोसियों का कहना है कि ध्रुव बीजेपी नेता के रूप में पूरे मोहल्ले में जाना जाता था.

ध्रुव सक्सेना 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में

ध्रुव सक्सेना समेत पकड़े गए पांचों लोगों को कोर्ट ने 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है, इन सभी पर देशद्रोह का मुकदमा चल रहा है. ध्रुव के माता पिता के मुताबिक उनका बेटा बीजेपी की आईटी सेल में संयोजक था. ध्रुव की मां रजनी सक्सेना आईटीआई कॉलेज में ट्रेनिंग ऑफिसर हैं, जबकि पिता अजय महेंद्र सक्सेना रिटायर हो चुके हैं.

सेना से जुड़ी जानकारियां आईएसआई को भेजने का आरोप

भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और सतना जिलों से एमपी एटीएस ने 11 लोगों को गिरफ्तार किया है. जिसमें ध्रुव सक्सेना भी है. इन पर आरोप है कि सेना की जानकारियों को जमा कर ये लोग पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई को भेजा करते थे, जिसके लिए उन्होंने बाकायदा टेलीफोन एक्सचेंज भी बनाया हुआ था।