BCCI प्रशासकों ने अनुराग ठाकुर-अजय शिर्के की ओर से नियुक्‍त कर्मचारियों को हटाया

सुप्रीम कोर्ट की तरफ से नियुक्‍त कमेटी ऑफ एडमिनिस्‍ट्रेटर्स (COA)ने सोमवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के कुछ कर्मचारियों को हटा दिया। जिन कर्मचारियों को हटाया गया है, वो पूर्व बीसीसीआई अध्‍यक्ष अनुराग ठाकुर और पूर्व सचिव की ओर से नियुक्त किए गये थे।

BCCI प्रशासकों ने अनुराग ठाकुर-अजय शिर्के की ओर से नियुक्‍त कर्मचारियों को हटाया

सुप्रीम कोर्ट की तरफ से नियुक्‍त कमेटी ऑफ एडमिनिस्‍ट्रेटर्स (COA)ने सोमवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के कुछ कर्मचारियों को हटा दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस कमेटी ने 30 जनवरी को बीसीसीआई के संचालन की जिम्‍मेदारी संभाली थी। जिन कर्मचारियों को हटाया गया है, वो पूर्व बीसीसीआई अध्‍यक्ष अनुराग ठाकुर और पूर्व सचिव की ओर से नियुक्त किए गये थे।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक कमेटी ऑफ एडमिनिस्‍ट्रेटर्स ने पूर्व अध्‍यक्ष और सचिव से अटैच स्‍टॉफ को हटाने के बारे में फैसला 1 फरवरी को बैठक में लिया था। इसके साथ ही कमेटी ऑफ एडमिनिस्‍ट्रेटर्स ने बीसीसीआई के दिल्‍ली कार्यालय के लिए एक केयरटेयर की नियुक्ति का निर्णय लिया है।

वहीं बैठक में फैसला लिया गया कि आगे से स्‍टाफ की नियुक्ति का फैसला कमेटी ऑफ एडमिनिस्‍ट्रेटर्स की मंजूरी के बिना नहीं लिया जा सकेगा। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) को लेकर बीसीसीआई के सीईओ जौहरी को कांट्रेक्‍ट बेस पर नियुक्ति की इजाजत दी गई। यह नियुक्ति अधिकतम 4 माह के लिए की जा सकेगी।

बता दें कि चार सदस्‍यीय समिति में पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) विनोद राय, आईडीएफसी के प्रबंध निदेशक विक्रम लिमये, महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्‍तान डायना एडुलजी और क्रिकेट जानकार-इतिहासविद रामचंद्र गुहा शामिल हैं। इस समिति की अगुवाई विनोद राय कर रहे हैं।

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने दो जनवरी को अनुराग ठाकुर और अजय शिर्के को उनके पद से हटा दिया था। कोर्ट ने बीसीसीआई के ज्‍यादातर पदाधिकारियों को भी हटा दिया था क्‍योंकि वे जस्टिस लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को नहीं मान रहे थे।