33 दिन पहले लिखी गई थी भंसाली पर हुए हमले की स्क्रिप्ट

चितौड़गढ़ की रानी पद्मावती पर फिल्म बना रहे संजय लीला भंसाली के साथ 27 जनवरी 2017 को जयपुर में जो कुछ हुआ, उसकी स्क्रिप्ट 310 किमी दूर चित्तौड़गढ़ में 33 दिन पहले यानी 24 दिसंबर 2016 को ही लिखी जा चुकी थी...

33 दिन पहले लिखी गई थी भंसाली पर हुए हमले की स्क्रिप्ट

चितौड़गढ़ की रानी पद्मावती पर फिल्म बना रहे संजय लीला भंसाली के साथ 27 जनवरी 2017 को जयपुर में जो कुछ हुआ, उसकी स्क्रिप्ट 310 किमी दूर चित्तौड़गढ़ में 33 दिन पहले यानी 24 दिसंबर 2016 को ही लिखी जा चुकी थी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सामने आया है कि भंसाली पर इस हमला कराने वाला शख्स कोई और नहीं बल्कि शेर सिंह राणा है, जो दस्यु सुंदरी से सांसद बनी फूलन देवी की हत्या के मामले में जमानत पर है। राणा ने वहां जो कहा था वो एक वीडियो में भी रिकॉर्ड हुआ था। जब इस बारे में राणा से बात की गई तो उसने कहा कि हां जयपुर की घटना को उसी के इशारे पर हुई और कर्णी सेना ने उस घटना को उसी के इशारे पर अंजाम दिया था। राणा ने यह भी कहा कि भंसाली अगर नहीं समझे, तो उनके साथ आगे कुछ भी हो सकता है।



बता दें कि 24 दिसंबर 2016 को चित्तौड़गढ़ में भंसाली पर हमला करने वाली राजपूत कर्णी सेना ने जौहर स्वाभिमान समारोह आयोजित किया था। इसमें शेर सिंह राणा बतौर गेस्ट मौजूद था। उसके साथ कर्णी सेना के संस्थापक लोकेंद्र सिंह कालवी, जयपुर राजघराने की सदस्य और विधायक दीया कुमारी सहित राजपूत समाज के कई बड़े चेहरे भी मंच पर मौजूद थे।

चित्तौड़ के सेंती स्थित उत्सव वाटिका में आयोजित इस कार्यक्रम में संबोधित करते हुए राणा ने कहा था कि पद्मावती फिल्म को लेकर मैंने मुंबई में प्रोडयूसर से साफ कहा कि अगर फिल्म में कुछ भी गलत हुआ तो वे कोई धरना-प्रदर्शन नहीं करेंगे, बल्कि सीधे मुंबई जाकर थप्पड़ लगाएंगे।’ बता दें कि दिल्ली हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद राणा का राजस्थान के कई शहरों में सम्मान किया गया था। रैलियां और सभाएं भी की गईं।

गौरतलब है कि राणा ने कहा था कि अगर रानी पद्मिनी का वास्तविक चरित्र दिखाया जाता है तो हम भंसाली का सम्मान करेंगे, लेकिन उसमें कुछ भी गलत हुआ तो मैं ये नहीं कह रहा हूं कि आप सब मेरा साथ देना और ना ही मैं धरना-प्रदर्शन वाला आदमी हूं मैं उसको वहीं मुम्बई में जाकर चार झापड़ मारूंगा। फिल्म निर्माताओं ने मुझसे कहा है कि पद्मावती ने स्वाभिमान और राष्ट्र के लिए अच्छा कार्य किया है। उसे उसी तरीके से दिखाया जाएगा। उन्होंने मुझे प्रैक्टिकल रीजन भी बताया है कि कोई 100 करोड़ रुपए खर्च कर फिल्म बना रहा है तो वो रुकेगी नहीं।राणा ने ये भी कहा कि हम पहले स्टोरी देखेंगे, गड़बड़ हुई तो कानूनी रास्ता भी अपनाएंगे।