बिहार परीक्षा: BSSC के पेपर लीक, आयोग के सचिव गिरफ्तार, परीक्षा हुई रद्द

बिहार की शिक्षा व्यवस्था कैसी है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि माध्यमिक परीक्षा में होनेवाली घपलेबाजी का मामला अभी ठीक से थमा नहीं था कि अब बीएसएससी की परीक्षा के पेपर लीक होने का मामला सामने आया है...

बिहार परीक्षा: BSSC के पेपर लीक, आयोग के सचिव गिरफ्तार, परीक्षा हुई रद्द

बिहार की शिक्षा व्यवस्था कैसी है इसका अंदाजा  एसी बात से लगाया जा सकता है  कि माध्यमिक परीक्षा में होनेवाली घपलेबाजी का मामला अभी ठीक से थमा नहीं था कि अब बीएसएससी की परीक्षा के पेपर लीक होने का मामला सामने आया है। पुलिस ने मामले में फौरन कार्रवाई करते हुए आयोग के सचिव को गिरफ्तार कर लिया है। उधर, राज्य की विपक्षी पार्टी बीजेपी ने पूरे मामले की जांच कर रही टीम पर ही सवालिया निशान लगाए हैं।

बता दें कि बिहार कर्मचारी चयन आयोग यानी बीएसएससी की इंटर (12वीं) स्तरीय पदों के लिए प्रारंभिक परीक्षा में प्रश्न-पत्र और उसके उत्तर लीक होने के मामले में अहम सबूत मिलने के बाद बिहार सरकार ने परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया था। मामले की जांच में जुटी विशेष जांच टीम ने आयोग के सचिव परमेश्वर राम और आयोग के डाटा एंट्री ऑपरेटर अविनाश कुमार को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं बिहार कर्मचारी चयन आयोग ने इंटर स्तरीय पदों के लिए प्रारंभिक परीक्षा के लिए चार तारिखों का ऐलान किया था। दो परीक्षाएं 29 जनवरी और पांच फरवरी को हो चुकी थीं, जबकि अन्य परीक्षाएं 19 फरवरी और 26 फरवरी को होनी थी।

गौरतलब है कि छात्रों का हंगामा बढ़ता देख मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को पूरे मामले की जांच करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के हस्तक्षेप के बाद पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की अगुआई में एक जांच दल गठित किया गया और जगह-जगह छापेमारी की गई और आयोग के सचिव सहित अन्य लोगों को गिरफ्तार किया।

उन्होंने कहा है कि एसआईटी का अनुमान है कि बीएसएससी परीक्षाओं का पर्चा लीक कराने में 200 करोड़ रुपये का खेल हुआ है. जिस रैकेट में 100 से ज्यादा मोबाइल नंबर का उपयोग कर हर परीक्षार्थी से दो से छह लाख रुपये तक वसूले गए हों, वह क्या सत्ता केंद्रों की हिस्सेदारी के बिना संभव हुआ होगा? इससे पूर्व भी बीते साल 12वीं परीक्षा में परिणाम घोषित होने के बाद टॉपर घोटला उजागर हुआ था। इसमें भी कई बड़े अधिकारियों की गिरफ्तारी हुई थी।