BJP सरकार बनी तो पहली बैठक में माफ होगा किसानों का कर्ज: PM मोदी

यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को लखीमपुर खीरी में जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी की सरकार बनती है तो पहली ही बैठक में किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा।

BJP सरकार बनी तो पहली बैठक में माफ होगा किसानों का कर्ज: PM मोदी

यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को लखीमपुर खीरी में जनसभा को संबोधित किया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीएम मोदी ने किसानों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि यूपी का सबसे बड़ा जिला लखीमपुर खीरी है। इसे चीनी का कटोरा कहा जाता रहा है। यूपी के सीएम अखिलेश यादव को यहां के किसानों का बकाया चुकता करने से किसने रोका है। किसानों के हक को छीना गया है। उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी की सरकार बनती है तो पहली ही बैठक में किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा।

सपा कुर्सी के मोह में कांग्रेस की गोद में बैठी
पीएम मोदी ने कहा कि 2014 में जब समाजावादी का सूपड़ा साफ हो गया तो अब गठबंधन की जुगत में लग गए। अब सपा कांग्रेस की शरण में बैठ गई, जो राम मनोहर लोहिया जीवनभर कांग्रेस के खिलाफ लड़ते रहे उन्हें आज सपा ने अपमानित किया है। सपा सिर्फ कुर्सी के मोह में कांग्रेस की गोद में बैठ गई।

प्रथम चरण में हुआ करारा मतदान
वहीं पहले चरण के मतदान पर बात करते हुए मोदी ने कहा कि प्रथम चरण में करारा मतदान हुआ है। पहले चरण ने साफ-साफ बता दिया है कि कितने भी गठबंधन हो जाए सपा बच नहीं पाएगी। जब उन्हें पता चला कि पहले चरण में ऐसा हुआ तो उन्हें तीसरा घोषणापत्र जारी करना पड़ा।

अखिलेश को 5 साल के काम का हिसाब देना चाहिए
उन्होंने कहा कि यूपी में 5 साल से अखिलेश यादव की सरकार है, उन्हें अब पांच साल के काम का हिसाब देना चाहिए। मोदी ने अखिलेश को चुनौती पेश करते हुए कहा कि 'मैं यहीं से लखनऊ जाने को तैयार हूं, वह भी आएं। पीएम ने मेट्रो प्रोजेक्ट की बात करते हुए कहा कि लोगों को मूर्ख बनाया गया है। आज भी मेट्रो ट्रेन नहीं है। केवल फीता काटा गया है।

माताएं-बहनें नहीं है सुरक्षित
मोदी ने कहा कि अखिलेश सरकार में माताएं बहनें घर के बाहर चेन पहनने से डरती हैं। चेन छीनने का डर रहता है। गुंडागर्दी है। प्रदेश में बिल्कुल भी कानून व्यवस्था नहीं है। यूपी में हर दिन 20 बलात्कार की घटनाएं होती हैं। हर दिन यहां पर 17 हत्याएं होती हैं। हर हत्या के पीछे राजनीति की बू आती है।