लंडन: चीनी दूतावास के बाहर बलाेच एंव सिंध प्रांत के लाेगाें ने किया विराेध

लंडन में चीनी दूतावास के बाहर बलोच और सिंध नागरिकों की ओर से विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान बलोच और सिंध प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी भी की। बता दें कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर (सीपीईसी) के खिलाफ बलोच नागरिकों का गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है।

लंडन: चीनी दूतावास के बाहर बलाेच एंव सिंध प्रांत के लाेगाें ने किया विराेध

लंडन में चीनी दूतावास के बाहर बलोच और सिंध नागरिकों की ओर से विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान बलोच और सिंध प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी भी की। बता दें कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर सीपीईसी के खिलाफ बलोच नागरिकों का गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है।

मीडिया रिपाेर्टस के मुताबिक इस प्रदर्शन काे बलूच नागरिकों ने विरोध जताने के लिए लंदन में चीनी दूतावास के समाने विरोध-प्रदर्शन किया और नारेबाजी की। सीपीईसी के खिलाफ लंदन में बसे बलूच और सिंध के लोगों ने चीन के दूतावास के बाहर विरोध प्रदर्शन किया है। इस मुद्दे पर वर्ल्ड सिंधी कांग्रेस भी बलूच लोगों के समर्थन में उतर आई।

गाैरतलब है कि चीनी दूतावास के बाहर विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों का कहना था कि इकनॉमिक कॉरिडोर के जरिए पाकिस्तान उनके संसाधनों का गलत इस्तेमाल कर रहा है। इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान की सरकार और सेना की ओर से वहां चलाए जा रहे दमन और अन्‍याय भरी गतिविधियों पर भी कड़ा विरोध जताया। ज्ञात हो कि यह पहला मौका नहीं है कि जब बलूच लोगों और नेताओं ने पाकिस्तान और सीपीईसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इससे पहले, बलूचिस्तान की स्थानीय महिलाओं ने पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए वहां की महिलाओं के साथ हो रहे शोषण को खत्म करने और उन्हें छोड़ने मांग की थी।