BMC चुनाव: शिवसेना 84 और BJP 81 सीटों पर जीती

बीएमसी चुनाव में देश की सबसे अमीर नगरपालिका पर शिवसेना का दबदबा कायम रहा है। 227 सीटों में से 226 सीटों के नतीजे आ गए हैं। शिवसेना ने 84 सीटों के साथ मुंबई के गढ़ को बचाने में कामयाबी हासिल की है। वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के खाते में 81 सीटें आई हैं। कांग्रेस को सिर्फ 30 सीटें मिली हैं।

BMC चुनाव: शिवसेना 84 और BJP 81 सीटों पर जीती

बीएमसी चुनाव में देश की सबसे अमीर नगरपालिका पर शिवसेना का दबदबा कायम रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 227 सीटों में से 226 सीटों के नतीजे आ गए हैं। शिवसेना ने 84 सीटों के साथ मुंबई के गढ़ को बचाने में कामयाबी हासिल की है। वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के खाते में 81 सीटें आई हैं। कांग्रेस को सिर्फ 30 सीटें मिली हैं। नतीजों को देखते हुए कांग्रेस की मुंबई इकाई के अध्यक्ष संजय निरुपम ने इस्तीफा दे दिया है। उनकी पार्टी के नेता नारायण राणे ने हार का ठीकरा संजय निरुपम के सिर फोड़ा था। शिवसेना खेमे में शुरुआती बढ़त पर जश्न का माहौल था, लेकिन अब बीजेपी के बराबर पर आ जाने से उद्धव ठाकरे नतीजों से नाखुश बताए जा रहे हैं।

दो दशक में पहली बार बीजेपी-शिवसेना ने अलग-अलग लड़े थे चुनाव
वहीं पिछले दो दशक में पहली बार ऐसा हुआ है, जब बीजेपी-शिवसेना ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था। इस चुनाव में इन दोनों के अलावा कांग्रेस, एनसीपी और मनसे भी मैदान में थी।

शिवसेना-बीजेपी दोनों कर रहे थे जीत का दावा
इस बार बीजेपी से अलग होकर चुनाव लड़ रही शिवसेना ने 202 सीटों के लिए करवाए गए आंतरिक सर्वे में 110 सीटें जीतने की उम्मीद जताई थी। बीएमसी में बहुमत के लिए 114 सीटों की जरुरत होती है। वहीं बीजेपी का दावा था कि पार्टी इन चुनावों में नंबर वन पार्टी बनकर उभरेगी।