यूपी चुनावः डिंपल ने बताया 'कसाब' का नया मतलब

' उत्तर प्रदेश चुनाव में नेताओं के बीच आरोप-प्रत्यारोप और जुमलेबाजी का दौर जारी है। इस बीच कन्नौज से समाजवादी पार्टी(एसपी) की सांसद डिंपल यादव ने शनिवार को अमित शाह के 'कसाब' बयान पर पलटवार करते हुए इसका नया मतलब बताया है।

यूपी चुनावः डिंपल ने बताया

उत्तर प्रदेश चुनाव में नेताओं के बीच आरोप-प्रत्यारोप और जुमलेबाजी का दौर जारी है। इस बीच कन्नौज से समाजवादी पार्टी(एसपी) की सांसद डिंपल यादव ने शनिवार को अमित शाह के 'कसाब' बयान पर पलटवार करते हुए इसका नया मतलब बताया है। उन्होंने 'कसाब' के 'क' को कंप्यूटर, 'स' को स्मार्टफोन और 'ब' से बहनों के लिए बहुत सारी योजनाएं नाम दिया है।

दरअसल बीजेपी चीफ अमित शाह ने चुनावी रैली के दौरान कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, बीएसपी के लिए संयुक्त रूप से 'कसाब' शब्द का जिक्र किया था। अमित शाह ने चौरी चौरा में रैली को संबोधित करते हुए कहा था, 'पिछले 15 सालों में एसपी और बीएसपी सरकारों ने उत्तर प्रदेश को बरबाद किया है। विनाश करने के लिए दो काफी थे कि तीसरी (कांग्रेस) भी आ गई। यूपी की जनता को इस 'कसाब' से मुक्ति मिलनी चाहिए।'

शाह के बयान की विपक्षी पार्टियों ने कड़ी आलोचना की थी। कांग्रेस ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि सिर्फ असफल नेता ही ऐसे अपमानजनक और ओछी भाषा इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं, बीएसपी चीफ मायावती ने भी पलटवार करते हुए 'कसाब' का मतलब बताया था। बीएसपी ने सीधे तौर पर अमित शाह को ही 'कसाब' बुला डाला। पार्टी चीफ मायावती ने गुरुवार को चुनावी रैली के दौरान कहा था, 'पूरा देश जानता है कि अमित शाह से बड़ा 'कसाब' यानी 'आतंकी' कोई और नहीं है।'