DSGPC चुनाव: दिल्ली में भी दिखेगा आप बनाम शिअद का मुकाबला

दिल्ली में इस बार के डीएसजीपी चुनाव में शिरोमणि अकाली दल (सरना गुट) और शिरोमणी अकाली दल (बादल गुट) के साथ आम आदमी पार्टी समर्थित पंथक सेवा दल के मैदान में आने से मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है।

DSGPC चुनाव: दिल्ली में भी दिखेगा आप बनाम शिअद का मुकाबला

पंजाब विधानसभा चुनाव के बाद भले ही बीजेपी और कांग्रेसी नेताओं का चुनाव प्रचार यूपी और उत्तराखंड तक ही सिमट गया हो लेकिन शिरोमणि अकाली दल और आम आदमी पार्टी की लड़ाई अभी भी पंजाब -दिल्ली में जारी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एक बार फिर दोनों पार्टियों की लड़ाई दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीपी) के चुनाव में देखी जा रही है। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के लिए 26 फरवरी को हो रहे चुनाव के लिए दोनों पार्टियों ने कमर कस ली है।

वहीं पंजाब चुनाव के बाद अकालियों के लिए डीएसजीपी का चुनाव भी प्रतिष्ठा का विषय बन गया है। इस बार के डीएसजीपी चुनाव में शिरोमणि अकाली दल (सरना गुट) और शिरोमणी अकाली दल (बादल गुट) के साथ आम आदमी पार्टी समर्थित पंथक सेवा दल के मैदान में आने से मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है।

बता दें कि दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी (डीएसजीपीसी) के 46 सीटों के लिए 26 फरवरी को मतदान होगा। 46 सीटों पर हो रहे चुनाव के लिए कुल 425 उम्मीदवार मैदान में हैं।

दिल्ली की पांच सीटों से ही दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की राजनीति तय होती है। पंजाबी बाग वार्ड नं. 9, ग्रेटर कैलाश वार्ड नं. 38, टैगोर गार्डेन वार्ड नं. 16, फतेह नगर वार्ड नं. 20 और हरिनगर वार्ड नं. 19 से जीतने वाले उम्मीदवार ही दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की राजनीति तय करते आए हैं।

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के 4 सिख विधायकों ने विधानसभा का चुनाव जीता था, जिनमें से एक विधायक जरनैल सिंह पंजाब विधानसभा चुनाव में भी किस्मत आजमा रहे हैं।