एक्जिट पोल छापने के आरोप में "जागरण डॉट कॉम" के संपादक गिरफ्तार

जागरण डॉट कॉम के संपादक शेखर त्रिपाठी को चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के मामले में गिरफ्तार किया गया है। चुनाव आयोग के आदेश के बाद शेखर त्रिपाठी सहित दैनिक जागरण समाचार-पत्र के मैनेजिंग एडिटर और आरडीआई नाम की संस्था के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का केस दर्ज किया गया था।

एक्जिट पोल छापने के आरोप में "जागरण डॉट कॉम" के संपादक गिरफ्तार

जागरण डॉट कॉम के संपादक शेखर त्रिपाठी को चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के मामले में गिरफ्तार किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चुनाव आयोग के आदेश के बाद शेखर त्रिपाठी सहित दैनिक जागरण समाचार-पत्र के मैनेजिंग एडिटर और आरडीआई नाम की संस्था के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का केस दर्ज किया गया था।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक जागरण डॉट कॉम के संपादक शेखर त्रिपाठी को गाजियाबाद की कविनगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दैनिक जागरण की वेबसाइट पर यूपी चुनाव के पहले चरण के बाद ही एग्जिट पोल दे दिया गया। इसके बाद चुनाव आयोग ने दैनिक जागरण के प्रबंध संपादक, संपादक और एग्जिट पोल कराने वाली संस्था के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिए थे।

वहीं पहली गिरफ्तारी जागरण डॉट कॉम के एडिटर शेखर त्रिपाठी के रूप में हुई है। यूपी में 11 फरवरी को पहले चरण के चुनाव हुए थे और पश्चिमी यूपी की 73 सीटों पर वोट डाले गए थे। इन्हीं सीटों के एग्जिट पोल जागरण ने अपनी वेबसाइट पर डाले थे, हालांकि इस पर दैनिक जागरण की तरफ से सफाई भी दी गई है।

जागरण की ओर से दी गई सफाई
डिजिटल इंग्लिश प्लेटफॉर्म के अलावा एग्जिट पोल से संबंधित खबर दैनिक जागरण अखबार में नहीं छापी गई। इंग्लिश वेबसाइट पर एग्जिट पोल से जुड़ी एक खबर अनजाने में डाली गई थी, इस भूल को तुरंत सुधार लिया गया। संज्ञान में आते ही वरिष्ठ अधिकारियों की तरफ से संबंधित न्यूज रिपोर्ट को तुरंत हटा दिया गया था।