विदेश मंत्री ने 50 दिनों से जॉर्जिया अस्पताल में भर्ती भारतीय छात्र की मदद का दिया आश्वासन

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जॉर्जिया में अस्पताल में भर्ती भारतीय छात्र को हरसंभव मदद देने का आश्वासन दिया है।

विदेश मंत्री ने 50 दिनों से जॉर्जिया अस्पताल में भर्ती भारतीय छात्र की मदद का दिया आश्वासन

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जॉर्जिया में अस्पताल में भर्ती भारतीय छात्र को हरसंभव मदद देने का आश्वासन दिया है। छात्र की बहन द्वारा संपर्क करने के बाद सुषमा ने ट्वीट किया, ‘‘मुझे रिपोर्ट मिली है। चिकित्सकीय परामर्श के मुताबिक आपका भाई इस समय यात्रा नहीं कर सकता। आपकी मां उसके साथ जॉर्जिया में हैं।’’ विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘उनका वीजा खत्म हो गया है। मैंने भारतीय दूतावास से कहा है कि उनका वीजा बढ़ाएं। भारतीय दूतावास हरसंभव सहायता करेगा।’’ अस्पताल में अपने भाई का फोटो पोस्ट करते हुए गायत्री विजयकुमार ने ट्विटर पर मंत्री से संपर्क साधा।

गायत्री ने लिखा कि मैडम यह मेरा भाई है जो पिछले 50 दिनों से जॉर्जिया में आईसीयू में भर्ती है। उसे भारत वापस लाने के लिए हमें आपके मदद की जरूरत है। ट्वीट का जवाब देते हुए सुषमा ने तंजानिया में पदस्थापित उस भारतीय वाणिज्य दूतावास के अधिकारी का नाम पूछा जिसने एक भारतीय विद्यार्थी से बुरा बर्ताव किया। हार्वर्ड की यह छात्रा पूर्व अफ्रीकी देश गई हुई थी जहां उससे लूटपाट हुई। मंत्री ने लिखा, 'चरण्य कन्नन मैंने आपका लिखा हुआ गौर से देखा।'

सुषमा ने पूछा, 'तंजानिया में भारतीय उच्चायोग में पदस्थापित उस अधिकारी का नाम बताएं।' चरण्य के मुताबिक वह चेन्नई की रहने वाली है और हार्वर्ड बिजनेस स्कूल की छात्रा है। वह हाल में एक पाठ्यक्रम के लिए तंजानिया गई हुई थी जहां उससे लूटपाट हुई। एक न्यूज़ वेबसाइट पर ब्लॉग के माध्यम से उसने अपना अनुभव साझा किया जिसमें उसने कहा कि तंजानिया में भारतीय दूतावास में पदस्थापित एक अधिकारी ने उससे कहा, 'कुछ नहीं किया जा सकता। अगर आप मुझे दो करोड़ रूपये भी दें तो कुछ नहीं होगा।'