गिरिडीह में नक्सलियों ने की गोलीबारी, दो की मौत

भेलवाघाटी पंचायत की मुखिया के घर में कथित रूप से नक्सलियों ने की गोलीबारी। चार लोगों को मारी गोली, दो की मौत हो गई ।

गिरिडीह में नक्सलियों ने की गोलीबारी, दो की मौत

बिहार सीमा से लगे भेलवाघाटी थाना से थोड़ी दूरी पर रमनीटांड़ स्थित भेलवाघाटी पंचायत की मुखिया के घर में कथित रूप से नक्सलियों ने ताबड़तोड़ गोलीबारी की। घटना में चार लोगों को गोली लगी है। जिनमें मुखिया के पुत्र सुभाष वर्णवाल और बोंगी गांव निवासी श्याम सुंदर पंडित की मौके पर ही मौत हो गई है। पंडित बच्चों को पढ़ाते थे। हालांकि घटना के कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हुआ है।

वारदात के वक़्त मौके पर मौजूद भेलवाघाटी मुखिया प्रभावती वर्णवाल के पति गौरीशंकर वर्णवाल एवं छोटे पुत्र रंजीत वर्णवाल भी गंभीर रूप से घायल हो गए। जानकारी के मुताबिक, नक्सली बिहार के बोंगी और झारखंड के नोनियातरी से आए थे। दर्जनभर नक्सलियों में कुछ बाइक पर थे और कुछ पैदल।

ग्रामीणों का कहना है कि रविवार रात करीब आठ बजे सभी लोग अपने रमनीटांड़ स्थित घर में बैठे हुए थे। इसी क्रम में करीब बिहार की सीमा बोंगी गांव की ओर से कई लोग आए और घटना को अंजाम देकर बिहार के चकाई थाना क्षेत्र के मड़वा गांव भाग गए। मृतक सुभाष वर्णवाल सामाजिक क्षेत्र में सक्रिय था।

वहीं, पंडित बच्चों को पढ़ाते थे और बिहार के बोंगी गांव के ही रहनेवाले थे। वह रोज की तरह पास के रमनीटांड़ आए थे। गिरिडीह के एसपी अखिलेश बी वारियर का कहना है कि घटना हुई है मैं इसकी पुष्टि करता हूं। पर पूरे मामले का सत्यापन कराया जा रहा है।