खुशखबरी: नहीं लगी रिलायंस जियो 4G के फ्री प्लेन पर रोक

पूरे देश में जियो रिलायंस के फ्री प्लान का फायदा उठाने वाले ग्राहकों के लिए खुशखबरी है। दूरसंचार नियामक ट्राई ने रिलायंस जियो की मोबाइल सेवा के लिए वायस कॉल और डेटा शुल्क दर योजनाओं को क्लीनचिट दे दी है और कहा कि कंपनी की योजना उसके नियमों और मौजूदा शुल्क दर आदेशों के अनुरूप ही है...

खुशखबरी: नहीं लगी रिलायंस जियो 4G के फ्री प्लेन पर रोक

पूरे देश में जियो रिलायंस के फ्री प्लान का फायदा उठाने वाले ग्राहकों के लिए खुशखबरी है। दूरसंचार नियामक ट्राई ने रिलायंस जियो की मोबाइल सेवा के लिए वायस कॉल और डेटा शुल्क दर योजनाओं को क्लीनचिट दे दी है और कहा कि कंपनी की योजना उसके नियमों और मौजूदा शुल्क दर आदेशों के अनुरूप ही है। रिलायंस के फ्री ऑफर के चलते बाजार में मौजूद अन्य इंटरनेट और कॉल सेवा प्रदाता कंपनियों ने नाराज़गी जाहिर की थी और कई मंचों पर इसकी शिकायत की थी।

बता दें कि तीन महीनों के लिए यह फ्री सेवा देने के बाद जियो ने इस सेवा को फिर तीन महीने के लिए बढ़ा दिया था। कंपनी का कहना था कि नए साल के ऑफर में योजना के तहत कंपनी ने ऐसा किया है। कंपनी के इस फैसले को भी कई कंपनियों ने कई मंचों पर चैलेंज किया था। इनमें से एक मंच ट्राई भी था. ट्राई ने रिलायंस को नोटिस भेजकर उनका जवाब मांगा था। साथ ही ट्राई ने काफी लंबे वक्त तक सुनवाई के बाद अपना फैसला सुनायाय है। कंपनियों के आपसी विवाद के चलते जियो के ग्राहकों को काफी वक्त तक कॉल ड्रॉपिंग की समस्या झेलनी पड़ी थी।

उल्लेखनीय है कि भारती एयरटेल और आइडिया सेल्यूलर ने रिलायंस जियो की पेशकश को चुनौती देते हुए टीडीसैट्स का दरवाजा खटखटाया था। इन कंपनियों ने रिलायंस जियो की सभी सेवाओं की नि:शुल्क पेशकश को 90 दिन के बाद भी जारी रखे जाने को चुनौती दी थी। कंपनी की इस पेशकश की अवधि 31 दिसंबर 2016 को बढ़ाई थी जिसे उसने बढ़ाकर अब मार्च 2017 के आखिर तक कर दिया है।

गौरतलब है कि महान्यायवादी ने भी हाल ही में ट्राई को बताया था कि रिलायंस जियो की शुल्क दर योजनाएं मौजूदा नियमों या नियामक के किसी आदेश का उल्लंघन नहीं करती इसलिए ट्राई को इसमें हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए।