UP के पहले चरण मतदान में 73 सीटों के लिए 63 फीसदी का मतदान

73 सीटों के लिए पहले चरण के चुनाव में 64 प्रतिशत मतदान, 839 प्रत्याशियों की किस्मत EVM में बंद...

UP के पहले चरण मतदान में 73 सीटों के लिए 63 फीसदी का मतदान

यूपी की सत्रहवीं विधानसभा के पहले चरण के मतदान में शनिवार को रिकॉर्ड 64.22 फीसद मतदान हुआ। झड़प और पथराव की छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्वक संपन्न हुआ। मतदान की समाप्ति के साथ इस चरण के 839 उम्मीदवारों का भाग्य इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में बंद हो गया। पहले चरण में पश्चिमी उप्र के 15 जिलों की 73 सीटों पर वोट डाले गए।

2012 के विधानसभा चुनाव में यूं तो प्रदेश में 59.48 फीसद मतदान हुआ था, लेकिन पश्चिमी उप्र के जिन 15 जिलों में इस बार पहले चरण में मतदान हुआ है, उनमें पिछली बार 61 फीसद वोट पड़े थे।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी टी. वेंकटेश ने बताया कि शाम छह बजे तक प्राप्त सूचना के आधार पर सर्वाधिक 67.12 फीसद मतदान शामली जिले में हुआ । वहीं गौतमबुद्धनगर में मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग करने में कंजूसी की जिसकी वजह से यहां 59.17 प्रतिशत वोट ही पड़े।

विधानसभा क्षेत्रवार हुए मतदान के आधार पर आगरा की फतेहाबाद सीट पर मतदाताओं में सबसे ज्यादा उत्साह रहा। यहां सर्वाधिक 71.1 फीसद वोट पड़े। मेरठ के सिवालखास, सरधना व किठौर विधानसभा क्षेत्रों और हापुड़ की गढ़ मुक्तेश्वर सीट पर 70 फीसद मतदान हुआ। सांप्रदायिक पलायन के मुद्दे को लेकर सुर्खियों में रहे शामली के कैराना क्षेत्र में 69.36 प्रतिशत वोट पड़े।

पहले चरण में सबसे कम 51 फीसद मतदान गौतमबुद्धनगर की नोएडा सीट पर हुआ। गाजियाबाद जिले के साहिबाबाद विधानसभा क्षेत्र में 52.5, लोनी में 55 तो गाजियाबाद सीट पर 57 फी मतदान हुआ।