भारत दुनिया के आर्थिक नक्‍शे पर चमक रहा है: जेटली

केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने मोदी सरकार का चौथा बजट पेश करते हुए कहा कि हमारी सरकार कालेधन से लड़ रही है और सरकार पर लोगों का भरोसा बढ़ा है। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया के आर्थिक नक्‍शे पर चमक रहा है।

भारत दुनिया के आर्थिक नक्‍शे पर चमक रहा है: जेटली

केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने मोदी सरकार का चौथा बजट पेश करते हुए कहा कि हमारी सरकार कालेधन से लड़ रही है और सरकार पर लोगों का भरोसा बढ़ा है। हम असंठित के मुकाबले संगठित अर्थव्‍यवस्‍था की तरफ बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया के आर्थिक नक्‍शे पर चमक रहा है।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बजट की शुरूआत शायरी से करते हुए जेटली ने कहा कि 'जो बात है नई उससे क्यों डरते हैं आप, इस मोड़ पर घबराकर ने थम जाइये आप, जो बात नई उसे अपनाइये आप, डरते हैं नई राह पे क्यूं चलने से आप, हम आगे-आगे चलते हैं, साथ आइए आप।' शायरी से वित्तमंत्री का इशारा नोटबंदी की तरफ था। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से देश को वित्तीय मजबूती मिली है।

बजट में की गई घोषणाएं

-वरिष्ठ नागरिकों को LIC की पॉलिसी पर 8% तय ब्याज दिया जाएगा।

-रेल कोच से जुड़ी शिकायतों के लिए कोच-मित्र योजना शुरु की जाएगी।

-ई-टिकट से सर्विस चार्ज खत्म होगा।

-पीपीपी मॉडल से छोटे शहरों में एयरपोर्ट खोले जाएंगे।

-1,31,000 करोड़ का होगा रेल का बजट।

-2019 तक सभी ट्रेनों में बायोटॉयलेट होंगे।

-रेल संरक्षा के लिए 1 लाख करोड़ का फंड आवंटित किया गया।

-झारखंड और गुजरात में एम्स खुलेगा।

-तीर्थ और पर्यटन के लिए स्पेशल ट्रेनें शुरु की जाएगी।

-जनधन वरिष्ठ नारगिकों के लिए आधार आधारित हेल्थ कार्ड योजना शुरु की जाएगी।

-2025 तक टीबी, चेचक, कुष्ठ रोग जैसी ये 3 बीमारियां खत्म करने का लक्ष्य।

-किसानों का 60 दिन का ब्याज माफ होगा, फसल बीमा योजना में कवरेज को 40% बढ़ाया।

-2019 में 1 करोड़ परिवार गरीबी रेखा से बाहर आएंगे।

-किसान आय बढ़ाकर गांवों में समृद्धि लाई जाएगी

-1 करोड़ परिवारों को गरीबी से बाहर लाना है।

-8 हजार करोड़ रुपये से मिल्क प्रोसेसिंग फंड बनेगा।

-5 हजार करोड़ रुपये से सूक्ष्म निधि फंड बनेगा।

-20 हजार करोड़ 3 साल में नाबार्ड के लिए दिए गए।

-10 लाख करोड़ रुपये किसानों को मिले हैं, किसानों को कर्ज समय पर मिले इसकी व्यवस्था की जा रही है।

-नोटबंदी से ज्यादा टैक्स मिलेगा।

-कृ़षि विकास दर 4.1 फीसदी होने का अनुमान।

-10 लाख करोड़ रुपये किसानों को मिले हैं, किसानों को कर्ज समय पर मिले इसकी व्यवस्था की जा रही है

-TECH INDIA सरकार का एजेंडा है, डिजिटल इंडिया पर जोर है, किसान आय बढ़ाने पर जोर है।

-रेलवे बजट को आम बजट में शामिल करना ऐतिहासिक, रेलवे के सुधार के लिए कई सूत्रीय एजेंडा बनाया।