ऑस्ट्रेलिया के मुकाबले बेहद खराब रहा भारत का प्रदर्शन, 105 पर सिमटी पारी

भारत और ऑस्ट्रेलिया के के बीच होने वाले टेस्ट में देखा जाए तो ऑस्ट्रेलिया 260 रनों के जवाब में भारतीय क्रिकेट टीम का प्रदर्शन काफी खराब रहा है। पूरी टीम 40.1 ओवर में 105 रनों के स्कोर पर ऑल आउट हो गई...

ऑस्ट्रेलिया के मुकाबले बेहद खराब रहा भारत का प्रदर्शन, 105 पर सिमटी पारी

भारत और ऑस्ट्रेलिया के के बीच होने वाले टेस्ट में देखा जाए तो ऑस्ट्रेलिया 260 रनों के जवाब में भारतीय क्रिकेट टीम का प्रदर्शन काफी खराब रहा है। पूरी टीम 40.1 ओवर में 105 रनों के स्कोर पर ऑल आउट हो गई। मेहमान टीम ने भारत के खिलाफ अपनी पहली पारी के आधार पर 155 रनों की बढ़त ले ली है। भारतीय टीम के लिए लोकेश राहुल ने सबसे ज्यादा 64 रन बनाए।

बता दें कि आस्ट्रेलिया के लिए ओकीफ के अलावा मिशेल स्टार्क को दो और जोस हाजलेवुड और नाथन लॉयन को एक-एक सफलता मिली। आस्ट्रेलिया ने मैट रेनशॉ (68) और मिशेल स्टार्क (61) की अर्धशतकीय पारी के दम पर अपनी पहली पारी में 260 रन बनाए। भारत की तरफ से उमेश यादव ने चार, रविचंद्रन अश्विन ने तीन, रवींद्रे जडेजा ने दो और जयंत यादव ने एक विकेट लिए। इससे पहले आस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 260 रन बनाए। टीम ने आज पांच गेंद में चार रन और जोड़कर मिशेल स्टार्क के रूप में अपना अंतिम विकेट गंवाया जिन्होंने रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर रविंद्र जडेजा को कैच थमाया।

गौरतलब है कि स्टार्क ने दूसरे स्पैल के लिए वापसी करते हुए तीन गेंद के अंदर चेतेश्वर पुजारा और भारतीय कप्तान विराट कोहली को पवेलियन भेजकर भारत का स्कोर तीन विकेट पर 44 रन किया। इस तेज गेंदबाज की बेहतरीन गेंद पुजारा के ग्लव्स को चूमती हुई विकेटकीपर वेड के दस्तानों में चली गई। कोहली भी इसके बाद स्टार्क की आफ साइड से बाहर की गेंद पर खराब शार्ट खेलकर पहली स्लिप में पीटर हैंड्सकोंब को आसान कैच दे बैठे। पिछली चार टेस्ट श्रृंखला में चार दोहरे शतक जड़ने वाले कोहली अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 104 पारियों के बाद खाता खोलने में नाकाम रहे। इससे पहले 2014 में कार्डिफ एकदिवसीय मैच में वह खाता नहीं खोल पाए थे।

साथ ही सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल ने हालांकि एक छोर संभाले रखा। उन्होंने तेज गेंदबाजों के खिलाफ कुछ अच्छे शाट खेले जबकि बायें हाथ के स्पिनर स्टीव ओकीफी पर सीधा छक्का भी मारा। लंच के समय अजिंक्य रहाणे छह रन बनाकर उनका साथ निभा रहे थे। भारतीय टीम अब भी आस्ट्रेलिया ने 190 रन से पीछे है। इससे पहले सुबह भारत ने सिर्फ पांच गेंद के भीतर आस्ट्रेलिया का अंतिम विकेट हासिल किया। आस्ट्रेलिया ने दिन की शुरूआत नौ विकेट पर 256 रन से की। स्टार्क ने अश्विन की दूसरी ही गेंद पर चौका जड़ा लेकिन पांचवीं गेंद को हवा में लहरा गए और जडेजा ने डीप मिडविकेट पर कैच लपका। स्टार्क ने 63 गेंद का सामना करते हुए छह चौके और तीन छक्के मारे।

वहीं इस विकेट के साथ अश्विन ने भारत के घरेलू सत्र में सर्वाधिक विकेट चटकाने का पूर्व कप्तान कपिल देव का रिकार्ड तोड़ा। अश्विन ने 63 रन देकर तीन विकेट हासिल किए। इस आफ स्पिनर ने मौजूदा घरेलू सत्र के 10 मैचों में अब तक 64 विकेट हासिल किए हैं। इससे पहले कपिल ने 1979-80 में 13 टेस्ट में 63 विकेट अपने नाम किए थे। तेज गेंदबाज उमेश यादव ने 32 रन देकर चार जबकि रविंद्र जडेजा ने 74 रन देकर दो विकेट चटकाए।