INDvsAUS Test : पहले दिन ऑस्ट्रेलिया- 256/9, उमेश की गेंदबाजी ने ऑस्ट्रेलिया को झकझोरा

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 256 रन के स्कोर पर अपने 9 विकेट गंवा दिए हैं. मेहमान टीम मैट रेनशॉ (68 रन) और पुछल्ले मिशेल स्टार्क (57 रन नाबाद) की पारी से ढाई सौ के पार पहुंच पायी. स्टार्क और हेजलवुड की अंतिम जोड़ी ने 51 रन जोड़ कर टीम को पहले ही दिन ढहने से बचा लिया.

INDvsAUS Test :  पहले दिन ऑस्ट्रेलिया- 256/9, उमेश की गेंदबाजी ने ऑस्ट्रेलिया को झकझोरा

उमेश यादव की अगुवाई में भारतीय गेंदबाज़ों ने पुणे टेस्ट के पहले दिन 256 रन ख़र्च किए और ऑस्ट्रेलिया के नौ बल्लेबाज़ों को पैवेलियन लौटा दिया. पांच गेंदबाज़ों के साथ उतरे भारतीय कप्तान विराट कोहली ने उमेश यादव को सबसे आखिर में गेंद थमाई, लेकिन पहले दिन मेहमान टीम को सबसे ज्यादा झटके उन्होंने ही दिए.

टॉस जीतकर बल्लेबाज़ी का फ़ैसला करने वाली ऑस्ट्रेलिया टीम को डेविड वॉर्नर और मैथ्यू रेनशॉ की जोड़ी ने अच्छी शुरुआत दिलाई. ओपनरों ने पहले विकेट के लिए 82 रन जोड़े.

ऑस्ट्रेलिया को ऐसे लगे लगातार झटके
149 के स्कोर पर स्पिन के खाते में रवींद्र जडेजा और आर. अश्विन ने एक के बाद एक दो सफलताएं डालीं. पीटर हैंड्सकॉम्ब(22 रन) को जडेजा ने एलबीडब्ल्यू किया, जबकि कप्तान स्टीव स्मिथ (27 रन) को अश्विन ने कोहली के हाथों कैच कराया.  चायकाल के बाद मिशेल मार्श (4 रन) को जडेजा ने एलबीडब्ल्यू किया और विकेटकीपर बल्लेबाज मैथ्यू वेड (8 रन) को जयंत यादव ने सस्ते में लौटाया. रिटायर्ड हर्ट के बाद वापस खलने आए रेनशॉ (68 रन) अर्धशतकीय पारी खेलने के बाद अश्विन के शिकार हुए. स्टीव ओकीफे और नाथन लियोन का विकेट लेकर उमेश यादव ने ऑस्ट्रेलिया को क्रमशः 8वां और 9वां झटका दिया. दोनों खाता खोले बगैर 205 के स्कोर पर आउट हुए.  मिशेल स्टार्क और जोस हेजलवुड की अंतिम जोड़ी क्रीज पर डटी है. स्टार्क तेज बल्लेबाजी करते हुए 57 रन बटोर चुके हैं, स्टंप्स के समय उनके साथ हेजलवुड (1 रन) क्रीज पर थे.

5 बार वॉर्नर को लौटा चुके हैं उमेश यादव
डेविड वॉर्नर टेस्ट मैचों में 10 पारियों में टीम इंडिया के तेज गेंदबाज उमेश यादव का 5 बार शिकार बन चुके हैं. वॉर्नर के अलावा ऑस्ट्रेलिया के शॉन मार्श को भी वह 5 बार लौटा चुके हैं. किसी भी बल्लेबाज को सबसे अधिकर बार आउट करने के मामले में वॉर्नर और मार्श संयुक्त रूप से उनके पसंदीदा शिकार हैं.